Jansandesh online hindi news

एक अधिकारी ने दूसरे अधिकारी को पहले चूमा, फिर बतायी ऐसी बात, अधिकारी के उड़ गये होश !

कराची। पाकिस्तान में प्रतिशोध का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। कराची मेट्रोपॉलिटन कॉर्पोरेशन के एक अधिकारी ने दूसरे अधिकारी को सबक सिखाने के लिए पहले उसे चूमा फिर बताया कि वो कोरोना संक्रमित है। मामला सामने आने के बाद KMC ने आरोपी अधिकारी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई का फैसला लिया है। वहीं, यह भी
 | 
एक अधिकारी ने दूसरे अधिकारी को पहले चूमा, फिर बतायी ऐसी बात, अधिकारी के उड़ गये होश !

कराची। पाकिस्तान में प्रतिशोध का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। कराची मेट्रोपॉलिटन कॉर्पोरेशन के एक अधिकारी ने दूसरे अधिकारी को सबक सिखाने के लिए पहले उसे चूमा फिर बताया कि वो कोरोना संक्रमित है। मामला सामने आने के बाद KMC ने आरोपी अधिकारी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई का फैसला लिया है। वहीं, यह भी कहा जा रहा है कि आरोपी कोरोना पॉजिटिव होने के बाद कई अन्य कर्मचारियों से भी मिला था।

स्थानीय मीडिया के अनुसार, KMC ने आरोपी को असिस्टेंट डायरेक्टर के पद पर नियुक्त किया था।  कुछ दिन पहले उसने मानव संसाधन विभाग के निदेशक को जाकर चूम लिया और बाद में उसने बताया कि वो COVID पॉजिटिव है। आरोपी का कहना है कि उसे कई महीने से सैलरी नहीं मिली है, जिसकी वजह से वो काफी परेशान चल रहा है। जबकि पीड़ित अफसर का कहना है कि आरोपी को भ्रष्टाचार से जुड़े मामले में 5 अक्टूबर को निलंबित कर दिया गया था।

जानकारी के मुताबिक, आरोपी अधिकारी ने निदेशक के अलावा कई दूसरे कर्मचारियों से भी मुलाकात की थी. जैसे ही उन्हें आरोपी के कोरोना पॉजिटिव होने का पता चला, उन्होंने ऑफिस आना बंद कर दिया। इसके चलते कार्यालय का कामकाज भी प्रभावित हो रहा है। पीड़ित डायरेक्टर का कहना है कि वो चार महीने पहले ही संक्रमित हुए थे, इसलिए उन्हें ज्यादा खतरा नहीं है. लेकिन वो आरोपी को इस गुनाह के लिए सजा दिलवाना चाहते हैं।

कोरोना संक्रमण की बात करें तो पाकिस्तान (Pakistan) में अब तक कोरोना वायरस के 4 लाख 13 हजार से ज्यादा केस सामने आ चुके हैं और 8,303 लोगों की मौत हुई है। पिछले कुछ दिनों में संक्रमण के मामलों में यहां तेजी देखने को मिली है । गौरतलब है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने कोरोना की शुरूआत में कड़े उपायों का ज्यादा समर्थन नहीं किया था, जिसका खामियाजा देश को उठाना पड़ा।