Jansandesh online hindi news

नाभा जेल : गर्मख्यालियों के संपर्क में आया था सुक्खा, हथियारों के साथ फेसबुक पर फोटो डालने का था शौकीन

जगराओं, पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आइएसआइ को हलवारा एयरपोर्ट के अंदर के फोटो और जानकारियां मुहैया करवाने के आरोप में गिरफ्तार सुखकिरण सिंह सुक्खा हथियारों के साथ फेसबुक पर अपनी तस्वीरें अपलोड करने का शौकीन था। वर्ष 2011 में वह नाभा जेल में बंद था। वहां कट्टरपंथियों से मिलकर वह उनके रास्ते पर चल पड़ा।
 | 
नाभा जेल : गर्मख्यालियों के संपर्क में आया था सुक्खा, हथियारों के साथ फेसबुक पर फोटो डालने का था शौकीन

जगराओं, पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आइएसआइ को हलवारा एयरपोर्ट के अंदर के फोटो और जानकारियां मुहैया करवाने के आरोप में गिरफ्तार सुखकिरण सिंह सुक्खा हथियारों के साथ फेसबुक पर अपनी तस्वीरें अपलोड करने का शौकीन था। वर्ष 2011 में वह नाभा जेल में बंद था। वहां कट्टरपंथियों से मिलकर वह उनके रास्ते पर चल पड़ा।

नाभा जेल : गर्मख्यालियों के संपर्क में आया था सुक्खा, हथियारों के साथ फेसबुक पर फोटो डालने का था शौकीन
हलवारा एयरपोर्ट के अंदर के फोटो और जानकारियां मुहैया करवाने के आरोप में गिरफ्तार सुखकिरण सिंह सुक्खा वर्ष 2011 में वह नाभा जेल में बंद था। वहां वह गर्मख्यालियों के संपर्क में आया और बाहर आने के बाद वह उनके रास्ते पर ही चल पड़ा।

वह चार साल तक नाभा जेल में बंद रहा था। बाहर आने के बाद वह उनके रास्ते पर ही चल पड़ा और उनके संगठनों के साथ संपर्क स्थापित करने लगा। गैंगस्टरों को देख वह उनकी तरह ही हथियारों के साथ अपनी तस्वीरें इंटरनेट मीडिया पर अपलोड करता था। खुद को गर्मख्याली दिखाता था। उनके कई वीडियो भी वह शेयर करता था। पिस्तौल के साथ शेयर की गई उसकी फोटो की पुलिस जांच कर रही है।

सुक्खा की परिवार के साथ हो गई

 थी अनबन

वर्ष 2017 में नाभा जेल से बाहर आने बाद सुक्खा की परिवार के साथ अनबन हो गई थी। वह अमृतसर के गांव मानोचाहल चला गया और वहीं रहने लगा। पाकिस्तान की सीमा से लगते इस गांव में रहने के दौरान वह भारत के खिलाफ पाकिस्तान में सक्रिय संगठनों के संपर्क में आया और उनके इशारे पर काम करने लगा। इसी गांव में उस पर लड़ाई के बाद हत्या की कोशिश का केस भी दर्ज हुआ था। इस केस में भी वह दो साल अमृतसर जेल में बंद रहा था।