Advertisements

UP Investors Summit से प्रदेश हुआ मालामाल,PM मोदी ने भी दिया डिफेंस कॉरिडोर का बेहतरीन तोहफा

लखनऊः उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बुधवार से यानि आज से 2 दिन का इन्वेस्टर्स समिट हो रहा है। सूबे में हजारों करोड़ की निवेश होने की उम्मीद से प्रदेश में विकास की संभावनाएं हैं। इस समिट में मुकेश अंबानी, रतन टाटा, गौतम अडानी जैसे बड़े उद्योगपतियों ने शिरकत की है। इस आयोजन में देश के शीर्ष 5000 उद्योगपतियों का जमावड़ा है। पीएम नरेंद्र मोदी ने इस समिट का उद्घाटन किया है। इस समिट में शामिल हुए बड़े उद्योगपति अडानी, मुकेश अंबानी, आनन्द महिंद्रा और प्रदेश के सीएम योगी अदित्यनाथ ने समिट को संबोधित किया। सभी उद्योगपतियों ने प्रदेश में बड़े-बड़े निवेश किए हैं।

दिल्ली मुख्य सचिव पर हमले की मेडिकल रिपोर्ट, चेहरे और कंधे पर चोट के निशान

पीएम मोदी ने समिट को किया संबोधन 
इस दौरान पीएम मोदी ने समिट को संबोधन किया। उन्होंने कहा कि अनाज, गेहूं, गन्ना, दूध उत्पादन में अग्रणी, आलू उत्पादन में भी यूपी अग्रणी है। यूपी में अब बदले समय में वैल्यू एडीशन की जरूरत, योगी सरकार यूपी में औद्योगिक नीति निवेश की बेहतरी के लिए बनाई जा रही हैं। यूपी में उद्यमियों के लिए रेड टैप नहीं रेड कारपेट होगा। यूपी नई ऊंचाइयों पर पहुंचेगा।
‘सजा-ए-मौत’ पर अमल करने की ‘लेडी किलर’ ने लगाई गुहार: मुझे जल्दी से फांसी पर चढ़ा दो
21वीं सदी में नई बुलंदियों पर जाएगा UP
मोदी ने उत्तर प्रदेश को डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर का तोहफा भी दिया। समिट को संबोधित करते हुए कहा कि इस प्रोजेक्ट में 20 हजार करोड़ रुपए की निवेश की संभावना है। इतना ही नहीं करीब 2.5 लाख लोगों को रोजगार भी मिलेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार ऐसा इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करेगी, जो उत्तर प्रदेश को 21वीं सदी में नई बुलंदियों पर ले जाएगा।

UP सुपरहिट परफॉरमेंस देने के लिए तैयार 
पीएम मोदी ने कहा, “मैंने पहले भी कहा है, Potential + Policy + Planning+ Performance से ही Progress आती है। अब यूपी भी सुपरहिट परफॉरमेंस देने के लिए तैयार है। यूपी की अर्थव्यवस्था में सूक्ष्म-लघु एवं मध्यम उद्योगों- जिन्हें हम MSME कहते हैं, उनका बहुत बड़ा योगदान है। एग्रीकल्चर के बाद MSME सेक्टर में ही रोजगार के सबसे ज्यादा अवसर बनते हैं। मुझे ये जानकर खुशी है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने इस महत्वपूर्ण तथ्य को ध्यान में रखते हुए एक जिला-एक उत्पाद योजना शुरू की है। एक जिला-एक उत्पाद योजना को अतिरिक्त लाभ प्रदान की जाएगी। केंद्र सरकार के स्किल इंडिया मिशन से, स्टैंड अप इंडिया – स्टार्ट अप इंडिया मिशन से इसके अलावा सबसे बड़ा लाभ मिलेगा प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के माध्यम से।”

खेती से जुड़ी एक बड़ी चुनौती 
उन्होंने कहा कि खेती से जुड़ी एक बड़ी चुनौती । खेत से लेकर बाजार तक पहुंचने में बड़ी मात्रा में फसल और फल-सब्जियां खराब हो जाती हैं। फसल-अनाज-फल-सब्जियों की बर्बादी कम करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत पूरी सप्लाई चेन और इंफ्रास्ट्रक्चर का आधुनिकीकरण किया जा रहा है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश में कृषि उताप्द और कृषि अपशिष्ट से धन की भी असीम संभावनाएं मौजूद हैं। खासकर गन्ने के उत्पादन में यूपी के सबसे आगे रहने की वजह से यहां इथेनॉल प्रॉडक्शन की बहुत संभावनाएं है।

हवाई चप्पल पहनने वाला भी हवाई जहाज में करे सफर 
इस दौरान मोदी ने कहा कि सरकार की योजना और नीतियों का असर है कि 18 करोड़ से अधिक लोगों को बीमा कवर दिया गया है। यूपी के 11 शहरों में हवाई अड्डों का विकास किया जा रहा है, मेरा सपना है कि हवाई चप्पल पहनने वाला भी हवाई जहाज में सफर करे।

Advertisements
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.