fbpx
Advertisements
jansandesh online,Hindi News, Latest Hindi news,online hindi news portal

इतिहास बनाने वाले कोहली की सफलता का राज स्टीव वॉ ने खोला

मोनाको : दक्षिण अफ्रीका के 58 दिवसीय दौरे पर इतिहास बनाने वाले विराट कोहली को लेकर ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज क्रिकेटर स्टीव वॉ ने एक नया बयान दिया है जिसकी चारों ओर चर्चा हैं। वा ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका से टेस्ट में हारने के बाद टीम इंडिया ने जिस तरह वनडे और टी-20 में वापसी की है वह सचमें शानदार है। उन्होंने विराट कोहली की सराहना करते हुए कहा कि भारतीय टीम अगर दक्षिण अफ्रीका में सफलता हासिल कर पाई। उसके पीछे कारण यह था कि कोहली जरूरत से ज्यादा आक्रमक थे। लेकिन यह भारतीय कप्तान के रूप में उनके विकास का हिस्सा हैै। गौर हो कि भारतीय टीम ने टेस्ट श्रृंखला 1-2 से गंवाने के बाद वनडे और टी20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला क्रमश: 5-1 और 2-1 से जीती थी।
कोहली को संतुलन बनाने की जरूरत
PunjabKesari
वा ने कहा कि मैंने उसे दक्षिण अफ्रीका में देखा और मुझे लगता है कि वह जरूरत से ज्यादा कर रहा था लेकिन यह कप्तान के लिए सीखने की चीज है।’’ वा ने कहा कि कोहली को संतुलन बनाने की जरूरत है क्योंकि टीम में सभी खिलाड़ी उनकी तरह खुद को अभिव्यक्त करने वाले नहीं हैं। उन्होंने कहा- कप्तान के रूप में वह अब भी विकास कर रहा है और अपने रोमांच और भावनाओं को काबू में रखने के लिए उसे कुछ समय चाहिए लेकिन वह इसी तरह खेलता है।

रहाणे और पुजारा हैं काफी धैर्यवान
PunjabKesari
वा ने कहा- मुझे लगता है कि उसे सिर्फ इतना समझने की जरूरत है कि टीम में सभी लोग इस तरह नहीं खेल सकते। (अजिंक्य) रहाणे और (चेतेश्वर) पुजारा जैसे लोग काफी धैर्यवान और शांत हैं इसलिए उसे सिर्फ इतना समझने की जरूरत है कि कुछ खिलाड़ी अलग होते हैं।’’ उन्होंने कहा- वह अभी काफी अच्छी तरह टीम की अगुआई कर रहा है। उसके अंदर वह करिश्मा और एक्स फेक्टर है और इसलिए वह चाहता है कि बाकी टीम भी उसका अनुसरण करे। वह चाहता है कि टीम हमेशा सकारात्मक होकर खेले और जितनी जल्दी हो सके जीत दर्ज करे।’’

ऑस्ट्रेलिया में जीतना कोहली के लिए होगा चुनौतीपूर्ण
PunjabKesari
वा ने कहा, ‘‘पिछले कुछ वर्षों में खेल के सभी प्रारूपों में उनका जीत का रिकार्ड काफी अच्छा है। विराट की अपनी टीम के लिए बड़ी महत्वाकांक्षाएं हैं। वह सभी प्रारूपों में नंबर एक बनना चाहता है जो आजकल मुश्किल है। कोहली और भारत की नजरें अब इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया में जीत दर्ज करने पर टिकी हैं जो टेस्ट क्रिकेट में उसकी अगली दो बड़ी चुनौतियां हैं। भारत इंग्लैंड में अगस्त और सितंबर में पांच टेस्ट की श्रृंखला खेलेगा जबकि 2018-19 की र्गिमयों में टीम को ऑस्ट्रेलिया में चार टेस्ट मैच खेलने हैं।

ऑस्ट्रेलिया में ऑस्ट्रेलिया ही है प्रबल दावेदार
PunjabKesari
वा का हालांकि मानना है कि ऐसा करना आसान नहीं होगा और ऑस्ट्रेलिया में भारत की सफलता के लिए कोहली महत्वपूर्ण होंगे। उन्होंने कहा, ‘‘ऑस्ट्रेलिया में ऑस्ट्रेलिया प्रबल दावेदार होगा क्योंकि हमारा रिकार्ड इतना अच्छा है, जैसे भारत का भारत में। बेशक ऑस्ट्रेलिया में कोहली का प्रदर्शन महत्वपूर्ण होगा। पिछली बार उसने ऑस्ट्रेलिया में शानदार प्रदर्शन किया था।’’

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।