Advertisements

देश की अर्थव्यवस्था को कमजोर करना चाहती हैं भारत-विरोधी ताकतें: राजनाथ

देश की अर्थव्यवस्था को कमजोर करना चाहती हैं भारत-विरोधी ताकतें: राजनाथ

 

अराक्कोनम (तमिलनाडु)। केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत-विरोधी ताकतें देश की बढ़ती अर्थव्यवस्था को पचा नहीं पा रही हैं और वे देश की अर्थव्यवस्था तथा सामरिक स्थिति को कमजोर बनाने के लिए इसे नुकसान पहुंचाना चाहती हैं। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि भारत तेजी से ऊभर रही अर्थव्यस्था है और वर्तमान में इसे दुनिया की 10 शीर्ष अर्थव्यवस्थाओं में गिना जाता है।

केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल की पासिंग आऊट परेड के दौरान राजनाथ ने कहा कि दुनिया यह समझने लगी है कि 2030 तक भारत दुनिया के शीर्ष तीन अर्थव्यवस्थाओं में शामिल होगा और उस वक्त अर्थव्यवस्था का आकार मौजूदा दो ट्रिलियन के मुकाबले पांच ट्रिलियन हो जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन भारत-विरोधी ताकते हैं जिन्हें सामान्य तौर पर यह पसंद नहीं आता…. और वह ऐसे संवेदनशील क्षेत्रों में हमला करना चाहती हैं जहां से इसकी अर्थव्यवस्था और सामरिक स्थिति कमजोर हो।’’

मंत्री ने कहा कि कई देशों में आतंकवाद बड़ा खतरा है लेकिन आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इसे विश्व मंच पर उठाया है और ज्यादातर देशों को इस मुद्दे पर ‘‘एकजुट’’ करने में सक्षम रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘आतंकवाद बड़ा मुद्दा है और कई आतंकवादी संगठनों ने भारत पर भी अपनी नजरें गड़ायी हैं…. वे भारत को नुकसान पहुंचाने का अवसर खोजते रहते हैं।’’ राजनाथ सिंह ने कहा कि अमेरिका में हुए 9/11 हमले और मुंबई में हुए 26/11 हमलों ने आतंकवादी हमलों का ऐसा प्रभाव दिखाया है जो लंबे वक्त दिखेगा।

Advertisements
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.