सत्यार्थी ने कश्मीर के बच्चों से कहा, मैं आपके लिए संघर्ष करूंगा

सत्यार्थी ने कश्मीर के बच्चों से कहा, मैं आपके लिए संघर्ष करूंगा

 

श्रीनगर। नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने कहा है कि वह कश्मीर के बच्चों को बाल मजदूरी से बचाने के लिए शांतिपूर्ण तरीके से संघर्ष करेंगे। उन्होंने बच्चों को आश्ववस्त किया है कि वह उनकी सुरक्षा के लिए हर संभव प्रयास करेंगे। उन्होंने जम्मू-कश्मीर के बच्चों से हिंसा से अलग रहने की अपील करते हुए कहा, ‘एक साथ, हम इस युद्ध को जीतेंगे।

‘सक्रिय अलगाववादियों और आतंकवादियों का नाम लिए बगैर सत्यार्थी ने उनसे कहा कि वह अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए बच्चों का इस्तेमाल न करें। बच्चों के खिलाफ हो रहे अपराध के बारे में जागरुकता फैलाने के लिए सत्यार्थी भारत यात्रा पर हैं। पिछले सप्ताह उन्होने उत्तर प्रदेश में कई कार्यक्रम आयोजित किए थे। उन्होंने अपनी यात्रा कन्याकुमारी से शुरू की है।

विभिन्न स्कूल से आए छात्रों को संबोधित करते हुए सत्यार्थी ने कहा, ‘मैं श्रीनगर और दिल्ली में सरकारों के दरवाजे खटखटाऊंगा। उनसे कहूंगा कि वह बच्चों को पढ़ने दें और उनको जितना ऊंचा हो सके उड़ान भरने दें।’ उन्होंने कहा, ‘मैं आपके लिए अपील करूंगा, प्रार्थना करूंगा और जरूरत पड़ी तो आपके लिए संघर्ष भी करूंगा।’

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.