fbpx
Advertisements
jansandesh online,Hindi News, Latest Hindi news,online hindi news portal

क्रिकेटर मोहम्मद शमी को हो सकती है 10 साल की जेल ?

भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी के खिलाफ उनकी पत्नी की शिकायत के बाद कोलकाता पुलिस ने घरेलू हिंसा का मामला दर्ज कर लिया है.। पुलिस का कहना है कि 27 वर्षीय खिलाड़ी पर हत्या की साजिश और धमकी जैसी कानूनी धाराओं के तहत भी मामला दर्ज किया गया है। वहीं, बीसीसीआई द्वारा आठ मार्च को जारी की गई राष्ट्रीय टीम के अनुबंधित खिलाड़ियों की सूची में शमी को शामिल नहीं किया गया है।

mohd shami 1

उन्होंने इस सप्ताह अपनी पत्नी के आरोपों को खारिज किया था.। 2012 से क्रिकेट के हर तरह के प्रारूपों में भारत की ओर से 87 दफे खेल चुके इस खिलाड़ी के खिलाफ जिन धाराओं में मामला दर्ज हुआ है, अगर वह सिद्ध होता है तो उन्हें 10 साल या उससे अधिक की जेल की सजा हो सकती है.।

शमी की पत्नी हसीन जहां ने इस सप्ताह की शुरुआत में उन पर विवाहेत्तर संबंध रखने और घरेलू हिंसा का आरोप लगाया था.। मंगलवार को हसीन ने शमी के उन संदेशों को अपने फेसबुक अकाउंट पर डाल दिया था जो कथित तौर पर शमी ने अपनी चार साल की शादी के दौरान महिलाओं को भेजे थे.उनके आरोप थे कि शमी के कई प्रेम संबंध रहे हैं और वह उनका शारीरिक और मानसिक रूप से लगातार शोषण कर रहे हैं।

mohd shami 1

वहीं, शमी ने इन आरोपों को खघरिज करते हुए इन्हें बड़ी साजिश का हिस्सा बताया है और खुद को बदनाम करने की एक कोशिश कघ्रार दिया है.उन्होंने ट्वीट किया, मेरे निजी जीवन के बारे में जो कुछ भी कहा गया वो पूरी तरह गलत है।

बीसीसीआई की निगरानी समिति ने कहा है कि आरोपों ने उन्हें मुश्किल स्थिति में डाल दिया है. समिति के चेयरमैन विनोद राय ने क्रिकेट वेबसाइट ईएसपीएन क्रिकइन्फो से कहा, आमतौर पर आप भेद करते हैं और कहते हैं कि यह व्यक्तिगत मुद्दा है और अनुबंध पेशेवर मुद्दा है। लेकिन कोई भी आसानी से सवाल खड़ा कर सकता है और कह सकता है कि आरोप घृणित हैं और आप उन्हें अभी भी पुरस्कृत कर रहे हैं। साभार : bbc.com/hindi

Read More : अखिलेश का योगी पर निशाना, कहा- CM का ‘मैं हिंदू हूं’ जैसे शब्दों को सदन में बोलना गलत

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।