fbpx
Advertisements
jansandesh online,Hindi News, Latest Hindi news,online hindi news portal

गोरखपुर ने अगस्त में मरे बच्चों को दी उपचुनाव में श्रद्धांजलि

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटों पर हुए उपचुनावों में बीजेपी का कमल मुरझा रहा है. अब तक वोटों की हुई गिनती के मुताबिक, बीजेपी इन दोनों सीटों पर हार की ओर बढ़ रही है और समाजवादी पार्टी बढ़त बनाए हुई है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर में बीजेपी का हारना पॉलिटिकल पंडितों के आंकलन से अलग है. दूसरा बीजेपी का हारना लोगों को इसलिए भी चैंका रहा है।

Modi-Adityanath yogi
Modi-Adityanath yogi

क्योंकि हाल ही में हुए चुनावों में बीजेपी कई राज्यों में जीती थी. ऐसे में बीजेपी के हारने की सोशल मीडिया पर भी चर्चा हो रही है। जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने अपने एक पुराने ट्वीट को री-ट्वीट किया. इस ट्वीट में उमर ने लिखा था कि 2019 भूल जाइए, 2024 की तैयारी शुरू कीजिए।

री-ट्वीट करते हुए उमर लिखते हैं, बीजेपी के मेरे प्यारे दोस्तों आपकी कड़ी मेहनत के लिए शुक्रिया और मुझे गलत साबित करने के लिए अपनी कोशिशें जारी रखिए. मैं आपका शुक्रगुजार हूं.। ट्विटर पर द लाइंग लामा यूजर ने लिखा, चुनावी नतीजों के बाद सपा बोली- वाह, हम जीत रहे हैं. बीजेपी बोली- अंतिम नतीजे आने दीजिए. कांग्रेस बोली- आईपीएल कब से शुरू हो रहा है ?

राहुल राज ने ट्वीट किया, ईवीएम हैक हुई और जनता बीजेपी को जवाब दे रही है- फूलपुर में चुनावी नतीजे इन्हीं दो नतीजों के बीच झूलते नजर आ रहे हैं.। मतगणना के दौरान गोरखुपर में समाजवादी पार्टी उम्मीदवार की ओर से कथित गड़बड़ी के भी आरोप हैं. इसके बाद उत्तर उप्रदेश विधानसभा में समाजवादी पार्टी विधायकों ने हंगामा किया था।

वर्तिका फेसबुक पर इसी को लेकर तंज कसती हैं, कहीं मोटा भाई गोरखपुर के कलेक्टर की भी सीडी न निकलवा दें आम आदमी पार्टी से ताल्लुक रखने वाले आयुष पांडे ट्वीट करते हैं, गोरखपुर आज ऑक्सीजन की कमी से मारे गए सैकड़ों बच्चों को श्रद्धांजलि दे रहा है.।

अनुराग यादव लिखते हैं, फूलपुर बहाना है. यूपी से भगाना है. आकाश वत्स लिखते हैं, बीजेपी के भीतर योगी जी का कद तीन बिलांग छोटा हो जाएगा. सईद अमान जाफरी लिखते हैं, नरेश अग्रवाल के शुभ कदम पड़े हैं.। हेमेंद्र सिंह कृष्णावत लिखते हैं, मोदी पकौड़ा तलेंगे. योगी पकौड़े बेचेंगे. दोनों को रोजगार मिल गया है।

पटेल एसएन ने लिखा- किसी ने पढ़े लिखे लोगों से पकौड़े बेचने के लिए कहा था. इसे याद रखना चाहिए.। अवधबिहारी वर्मा लिखते हैं, आज मोदी विरोधी ईवीएम पर कुछ नहीं बोल रहे हैं क्योंकि वो मतगणना में आगे चल रहे हैं. अगर पीछे चल रहे होते तो मोदी को कोसते। विपिन राठौड़ ने ट्वीट किया, श्श्अब तो मायावती पर तोता छोड़कर उनकी हिम्मत तोड़ने की कोशिश जरूर की जाएगी।साभार:bbc/hindi

Read More :  41 लाख बैंक अकाउंट SBI ने किए बंद, जानियें इसमें कहीं आपका खाता तो नहीं

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।