Advertisements

फंगल इंफेक्शन को मिनटों में दूर करते हैं ये 7 जादुई नुस्खे

बदलते मौसम के साथ स्किन प्रॉब्लम होने का खतरा सबसे ज्यादा होता है। गर्मी में तो धूप और प्रदूषण के कारण आपको कई त्वचा संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है, जिसमें से एक है फंगल इंफेक्शन। इसके कारण त्वचा की ऊपरी सतह में पपड़ी, पैरों में खुजली, नाखूनों का पीला और मोटा होना, त्वचा पर लाल चकत्ते बनना और त्वचा में खुजली, रैशेज होना जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं।

fungal-infection

फंगल संक्रमण एंटीबॉघ्योटिक दवाओं के साइड इफेक्घ्ट, कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली, डायबिटीज, प्रदूषण, धूप, blood सर्कुलेशन की कमी के कारण हो जाती है। कुछ लोग इस समस्या को दूर करने के लिए क्रीम या दवाओं का इस्तेमाल करते हैं लेकिन कुछ आसान से घरेलू नुस्खे अपनाकर भी इस प्रॉब्लम को दूर किया जा सकता है।

1. जैतून के पत्ते
फंगल इंफेक्शन को दूर करने के लिए जैतून के 5-6 पत्तों को पीसकर इसका पेस्ट बना लें। इसके बाद इसे इंफेक्शन वाली जगहें पर 30 मिनट के लिए लगाएं और इसके बाद धो लें। इंफेक्शन दूर होने तक इस पेस्ट लगाते रहें।

Cure-For-Fungle-Infection
Cure-For-Fungle-Infection

2. एलोवेरा जेल
एलोवेरा जेल का इस्तेमाल इंफेक्शन को दूर करने के साथ आपको जलन, खुजली और रैशेज से राहत भी दिलाएगा। इसके लिए आप एलोवेरा जेल को त्वचा पर रगड़ें और इसके बाद इसे 30 मिनट के लिए छोड़ दें। अब इसे गुनगुने पानी से धो लें।

3. दही
दही में एसिड होने के कारण यह हानिकारक बैक्टीरिया को मार देता है। कॉटन की मदद से दही को इंफेक्शन वाली जगह पर लगाएं और कुछ देर बाद इसे धो लें। ध्यान रहे, इंफेक्शन वाली जगह को कभी भी हाथों से न छुएं क्योंकि ये इंफेक्शन संक्रामक होता है।

4. लहसुन
एंटीफंगल गुणों से भरपूर लहसुन का इस्तेमाल आपकी इस समस्या को मिनटों में दूर कर देगा। इसके लिए लहसुन की 3-4 कलियों का पेस्ट बनाकर इंफेक्शन वाली जगह पर लगाएं। लहसुन लगाने से एक मिनट तक हल्की सी जलन हो सकती है लेकिन इससे यह इंफेक्शन धीरे-धीरे खत्म हो जाएगा।

Cure-For-Fungle-Infection
Cure-For-Fungle-Infection

5. हल्दी
कच्ची हल्दी को पीसकर इंफेक्शन वाली जगह पर 30 मिनट के लिए लगाएं। एंटीफंगल गुण होने के कारण यह फंगल इंफेक्शन और इससे होने वाले दाग-धब्बों को भी खत्म करती हैं।

6. सेब का सिरका
फंगल इंफेक्शन होने पर 1 कप गर्म पानी में 2 टेबलस्पून सेब का सिरका मिलाकर पीएं। इसका सेवन आपके खून में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म करके इस प्रॉब्लम को दूर करेगा।

7. टी ट्री ऑयल
एंटीसेप्टिक गुण होने के कारण टी ट्री ऑयल इंफेक्शन की समस्या को कुछ समय में ही दूर कर देता है। ट्री टी ऑयल, जैतून का तेल और बादाम के तेल को बराबर मात्रा में मिलाकर इंफेक्शन वाली जगह पर लगाएं। इंफेक्शन दूर होने तक रोजाना इसका इस्तेमाल करें।

Advertisements
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.