औषधि निरीक्षक की लापरवाही से जिले में बिना लाइसेंस के मेडिकल स्टोरों की भरमार

1,018

जनपद अंबेडकरनगर ड्रग्स निरीक्षक की निरंकुशता के चलते जिले में अवैध मेडिकल स्टोर संचालकों का बोलबाला है मानक के विपरीत सैकड़ों मेडिकल स्टोर हो रहे संचालित सरकार एक तरफ जनता  को अच्छी दवाओं की  सुविधा  मुहैया कराने के लिए दिनप्रतिदिन प्रयास कर रही है.

वहीं  अम्बेडकर नगर में सरकार की नीतियों पर पानी फेर रहा है औषधि विभाग, जनपद में अकबरपुर, जलालपुर, बरियावन बसखारी आलापुर टांडा कटेहरी मालीपुर जैसे बाजारों में कुछ तो मेडिकल स्टोर लाइसेंस धारी है परंतु अधिकतर मेडिकल स्टोर बिना लाइसेंस के ही संचालित हो रहे हैं .

मेडिकल स्टोर पर अवैध दवाओं की बिक्री भी रात के समय होती है कुछ मेडिकल स्टोर तो केवल अवैध दवाओं ,जिसको बिक्री करने का लाइसेंस भी नहीं है उसके बाद भी दवाओं की बिक्री करते हुए दिखाई पड़ते हैं जबकि ड्रग्स निरीक्षक से वार्ता करने पर पता चलता है कि जिन की शिकायत आती है.

उन पर ही कार्यवाही की जाती  है और मीडिया द्वारा जब यह जानकारी की गई कि जनपद में अभियान चलाकर छापे मारी क्यों नहीं की जा रही है तो औषधि निरीक्षक ने बताया, जनपद में जिलाधिकारी के आदेश पर ही चेकिंग अभियान चलाया जाता है  इस तरह से कार्य बचने हेतु अपने ऊपर से दूसरे अधिकारियों का हवाला देते हैं कब तक बन्दरबाट इस तरह से चलेगा एक दिन सरकार को सख्त होना पड़ेगा तभी जनता को समुचित लाभ मिलेगा.

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।