fbpx
Advertisements
jansandesh online,Hindi News, Latest Hindi news,online hindi news portal

अलीगढ़ प्रशासन सर्तक इंटरनेट सेवा कल तक बंद

अलीगढ़ । तालानगरी अलीगढ़ में मोहम्मद अली जिन्ना की फोटो के प्रकरण पर मामला गरमाता देख जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने जिले में आज दोपहर दो बजे से इंटरनेट सेवा को बंद करने का आदेश दिया है। उनका यह आदेश कल रात 12 बजे तक प्रभावी रहेगा। अलीगढ़ में आज दिन में दो बजे से कल रात 12 बज तक इंटरनेट सेवा बंद रहेगा। माना जा रहा है कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जिन्ना प्रकरण को सोशल मीडिया पर अधिक तूल दिया जा रहा है। जिसके कारण ही जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने आज यह आदेश जारी किया है। अलीगढ़ में दोपहर 2 बजे से कल रात 12 बजे तक इंटरनेट पर पाबंदी लगा दी गई है ताकि सोशल मीडिया पर अफवाहें ना फैले। अलीगढ़ शहर में धारा 144 लागू है, जगह-जगह कड़े सुरक्षा बंदोबस्त हैं।

अलीगढ़ में अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के यूनियन हाल में पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर को लेकर विवाद से तनाव बना हुआ है। एएमयू के गेट पर छात्र धरना दे रहे हैं, वहीं एसडी कॉलेज से ङ्क्षहदूवादी छात्र जुलूस के रूप में एएमयू जाने की तैयारी कर रहे हैं। सोशल मीडिया के जरिए समर्थन व विरोध में मैसेज, फोटो व वीडियो वायरल किए जा रहे हैं। इसके चलते प्रशासन ने आज दिन में दो बजे से जिले में इंटरनेट सेवा बंद करने रखने का निर्णय लिया है। इस संबंध में डीएम चन्द्रभूषण सिंह ने आदेश जारी किए हैं।वहीं, एएमयू और एसडी कॉलेज में पुलिस की कड़ी सुरक्षा की गई है। वहां पर हिंदू वादी नेताओं को जाने से रोका जा रहा है।

एएमयू में लगी जिन्ना की तस्वीर का विरोध चार दिनों से हो रहा है। यह विवाद भाजपा सांसद व एएमयू कोर्ट मेंबर सतीश गौतम के सोमवार को एएमयू कुलपति प्रो. तारिक मंसूर को लिखे पत्र से शुरू हुआ। सांसद ने पूछा था कि किन कारणों से जिन्ना की तस्वीर लगी है और कहां-कहां? जिन्ना भारत व पाकिस्तान के बंटवारे के मुख्य सूत्रधार थे। आज भी पाकिस्तान गैरजरूरी हरकतें कर रहा है। ऐसे में जिन्ना की तस्वीर एएमयू में लगाना कितना तार्किक है। एएमयू के यूनियन हॉल में जिन्ना समेत 30 हस्तियों की तस्वीर लगी है।

जिन्ना 1938 में एएमयू आए थे। तभी उन्हें यूनियन की सदस्यता दी गई थी। एएमयू गठन (1920) के साथ ही पहले मानद सदस्य महात्मा गांधी थे। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र धरने पर बैठे हैं। उनकी मांग है कि यूनिवर्सिटी में जिन्ना की तस्वीर हटाने आए हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं को तुरंत गिरफ्तार किया जाए। साथ ही इस मामले की न्यायिक जांच कराई जाए। छात्र क्लास न जाने की जिद पर अड़े हैं, जिसे देखते हुए अगले पांच दिन के लिए क्लासेज सस्पेंड कर दी गई हैं।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।