Advertisements

अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनाने के संकल्प के साथ पूरा हुआ महायज्ञ

अयोध्या को भारत की राजधानी बनायेगी सत्य शिखर पार्टी

लखनऊ। अयोध्या को भारत की राजधानी बनाने और स्वर्ण निर्मित राम मंदिर निर्माण के साथ ही आरक्षण व्यवस्था की पूर्ण समाप्ति जैसे उद्देश्यों को लेकर सत्य शिखर पार्टी 2019 में देश की जनता के बीच जायेगी । बुधवार को सीतापुर रोड पर स्थित त्रिवेणी नगर में पीली कोठी परिसर में अनेेक राम भक्तों के बीच आयोजित पत्रकार वार्ता में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राधेश्याम श्रीवास्तव और राष्ट्रीय प्रवक्ता डा. बी. तिवारी सहित अनेक पदाधिकारी उपस्थित रहे।
पत्रकार वार्ता में बात करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राधेश्याम ने जानकारी दी कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनाने के लिए एक राजनीतिक पार्टी गठित करने की प्रेरणा उन्हें परम राम भक्त हनुमान जी ने दी है । उन्हीं की प्रेरणा से पूरे भारत में संगठन का विस्तार कार्य तेजी से चल रहा है और इस समय पूरे भारत में एक लाख से अधिक लोग पार्टी के संकल्पों से प्रभावित होकर जुड़ चुके हैं। पत्रकारों के प्रश्नों का उत्तर देते हुए राधेश्याम ने कहा कि भाजपा की राज्य व केन्द्र में सरकारें होते हुए भी रामलला अयोध्या में एक मंदिर के लिए तरस रहे हैं जो भारत के विशाल हिन्दू समाज का अपमान है।
उन्होंने नोटबंदी को मोदी सरकार का असफल प्रयास बताते हुए कहा कि नोटबंदी के समय कोई काले पैसे वाला परेशान नहीं हुआ। इससे केवल मध्य वर्ग एवं गरीब जनता ही प्रभावित हुई है। आरक्षण के मुद्दे पर सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि योग्यता के प्रश्न पर कोई समझौता नहीं होना चाहिए अन्यथा देश के युवा वर्ग में असंतोष और असुरक्षा बढ़ सकती है । इस प्रेसवार्ता में मौजूद राष्ट्रीय प्रवक्ता डा. तिवारी ने कहा कि सभी प्राणियों में सद्भावना लाने के उद्देश्य से जिस शांति महायज्ञ का आयोजन किया गया है, उसमें श्री सीताराम जी के भव्य मंदिर निर्माण की कल्पना भी निहित है । इस अवसर पर पार्टी के कुशीनगर संसदीय क्षेत्र से होने वाले प्रत्याशी अशोक यादव, संतोष सिंह, पवन त्रिपाठी , लल्ली सिंह, अशोक शुक्ला सहित अनेक पार्टी कार्यकर्ता तथा शांति महायज्ञ में सम्मिलित होने के लिए आए भक्तजन बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।
Advertisements
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.