करोड़पति बनने के तीन आसान नुस्खे

आप कैसे जानेंगे कि कौन-सा बिजनेस हिट होगा और कौन-सा फ़्लॉप? किसी के लिए ये सवाल लाख टके का हो सकता है.लेकिन कनाडा के रेयान होम्स के लिए ये सवाल कोई रॉकेट साइंस नहीं, जिसका पता लगाना मुश्किल है.रेयान होम्स एक निवेशक और सोशल नेटवर्क अकाउंट को मैनेज करने वाले वेबसाइट ‘हूटसूट’ के संस्थापक हैं.

उनके अनुसार एक सफल बिजनेसमैन होने के लिए कोई विशेष डिग्री की ज़रूरत नहीं होती है. आपको बस एक नुस्खे की ज़रूरत होती है, जिससे आप पता लगा सकते हैं कि आपका किसी वेंचर में निवेश करना फायदेमंद साबित होगा या नहीं.कोई बिजनेस आइडिया आपको कामयाब बनाएगा या नहीं, होम्स के हिसाब से इसका पता लगाना काफ़ी आसान है. वो इसके लिए ट्रिपल ‘T’ का फॉर्मूला देते हैं.

sourcebbc
1. टैलेंट

अच्छे बिजनेस आइडिया आपको सभी जगह मिल जाएंगे, लेकिन इसे लागू करने वाले प्रतिभाशाली लोग लाखों में एक होते हैं.

होम्स अपने ब्लॉग में लिखते हैं, “बिजनेस का मूल्यांकन करते वक्त मैं पहले उसके बॉस और उसकी टीम को देखता हूं. मेरे लिए यह जानना ज़रूरी है कि वो बिजनेस के प्रति समर्पित हैं या नहीं.”

उद्यमियों के लिए सबसे बड़ी चुनौती, निवेशकों के पैसों को शून्य से अरबों तक ले जाना होता है और सफल होने के लिए ये ज़रूरी है कि वो अपना पूरा समय दें और उनके काम करने का तरीक़ा अलग हो.

होम्स कहते हैं, “बड़े उद्यमी समस्याओं के समाधान तलाशते हैं, न कि दूसरों को इसके लिए पैसे देते हैं. वो तब तक आराम नहीं करते, जब तक इसके समाधान ढूंढ़ नहीं लेते हैं. किसी भी कंपनी की मौलिक ज़रूरत होती है कि उनके पास ‘कुछ करने का जज़्बा’ रखने वाले उद्यमी हों.”

sourcebbc2
sourcebbc2

2. टेक्नॉलॉजी

होम्स कहते हैं कि टेक्नॉलॉजी कोई अंतिम समय में सोचे जाने वाली चीज़ नहीं है. ये तब ज्यादा ज़रूरी हो जाता है जब आपका बिजनेस आइडिया तकनीक से जुड़ा हो.

होम्स कहते हैं, “कोडिंग और इंजीनियरिंग एक बिजनेस आइडिया जितना ज़रूरी होते हैं.”

‘हूटसूट’ के संस्थापक के अनुसार बेहतरीन तरीक़ा ये है कि एक व्यक्ति तकनीक के प्रति पूरी तरह समर्पित हो और दूसरा बिजनेस की दूसरी ज़रूरत को देखे ताकि तकनीकी परेशानियों का समाधान समय पर किया जा सके.

3. ट्रैक्शन

ट्रैक्शन यानी खींचने या लुभाने की क्षमता. क्या आपके पास ग्राहक या निवेशक हैं? आपने कितना पैसा कमाया है? होम्स कहते हैं कि अगर आपके पास ग्राहक या निवेशक हैं और वो पैसे ख़र्च करना चाहते हैं तो ये बेहतर होगा.

और इससे निवेश को बढ़ावा मिलेगा क्योंकि किसी आइडिया पर सट्टा लगाना ज्यादा सुरक्षित है बजाय कागज पर दिखने वाले बेहतरीन आइडिया पर पैसे लगाने के.

होम्स कहते हैं कि निवेशकों को खींचने के लिए एक बेहतर योजना होनी चाहिए जिससे आइडिया उन तक पहुंचाया जा सके. बिजनेस की सफलता के लिए ऐसा सॉफ्टवेयर बनाया जाना चाहिए जो कंपनी के प्रोडक्ट को वायरल कर दे या फिर उसके विज्ञापन पर ज़ोर दे.

लेकिन होम्स खुद ये भी मानते हैं कि ट्रिपल ‘T’ फॉर्मूला सफलता की कोई अचूक दवा नहीं है. वो कहते हैं कि कुछ साल पहले उन्हें शेयर्ड ट्रैवल एप्लीकेशन बनाने का मौक़ा मिला था लेकिन वो टेस्ट ज़रूरतों की वजह से नकार दिया गया.

वो कहते हैं, “आज वो एप्लीकेशन ‘उबर’ 50 हजार मिलियन डॉलर की कंपनी है. कभी-कभी सही तकनीक, सही टीम और बेहतरीन आइडिया के बावजूद बिजनेस फ्लॉप हो सकते हैं.” साभार: बीबीसी हिन्दी

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.