fbpx
Advertisements
jansandesh online,Hindi News, Latest Hindi news,online hindi news portal

ये भारतीय क्रिकेटर बिजनेस से होने वाली कमाई से हुए मालामाल

नई दिल्ली । आईपीएल खत्म होने के बाद कई भारतीय खिलाड़ी मालामाल हुए हैं, ऐसे में अब ये क्रिकेटर केवल खेल से होने वाली कमाई पर ही निर्भर नहीं हैं। विज्ञापन से होने वाली कमाई ही इन क्रिकेटर्स की कमाई का हिस्सा हुआ करती थी पर अब ये ‘प्लान बी’ के तहत बिजनेस पर भी फोकस कर रहे हैं। सचिन तेंदुलकर के बारे में आप जानते ही हैं कि वह तेंदुलकर्स रेस्त्रां चेन के मालिक हैं, उनको देखते हुए जहीर खान ने भी अपनी फूड चेन शुरू की थी। लेकिन इनसे पहले सुनील गावस्कर से लेकर कपिल देव तक कई भारतीय क्रिकेटर ऐसे रहे हैं जो बिजनेस में हाथ आजमा चुके हैं। ऐसे ही कुछ क्रिकेटरों पर डालते हैं एक नजर –

sachin

सचिन तेंदुलकर – सचिन तेंदुलकर ने फुटबॉल की इंडियन सुपर लीग के शुरू होने के बाद केरला ब्लास्टर्स में हाथ आजमाया था, इस हिस्सेदारी में उनके साथ टॉलीवुड स्टाकर चिरंजीवी, अकीनी नागुर्जन और अल्लू अर्जुन हैं। वहीं इस टीम के मालिक निमागडा प्रसाद हैं। वहीं वह बैडमिंटन की बैंगलुरु ब्लाटस्टैर्स टीम में हिस्सेदारी है। इसके अलावा उनके तेंदुलकर्स नाम से फूड चेन भी है।

dhoni

महेंद्र सिंह धोनी– हाल में चेन्नई सुपर किंग को तीसरी बार चैंपियन बनाने वाले कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी का दखल स्पोरटर्स मैनेजमेंट कंपनी में भी है, उनकी रिति स्पोटर्स मैनेजमेंट नाम से एक कंपनी है। जिसे उनके दोस्त अरुण पांडेय चलाते हैं। वहीं इंडियन सुपर लीग की टीम चेन्नई फुटबॉल क्लब के बॉलीवुड अभिनेता अभिषेक बच्चन और विता डानी के साथ मालिक हैं। रांची रेज हॉकी टीम के सहारा परिवार के साथ मालिक महेंद्र सिंह धोनी ही हैं। लाइफस्टा‍इल ब्रांड सेवन के मालिक भी महेंद्र सिंह धोनी हैं। इसकी शुरुआत दिल्ली में 19 फरवरी 2016 को हुई थी।

virat-kohli

विराट कोहली– अपनी शादी के बाद विराट और अनुष्का शर्मा एक ब्रांड के तौर पर बनकर उभरे हैं, मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक दोनों की अभी संपत्ति 600 करोड़ रुपये है। यह आने वाले दो साल में 1 हजार करोड़ का आंकड़ा पार कर देगी। अब बात अगर विराट की क्रिकेट के अलावा दूसरे बिजनेस की करें तो उन्होंने गोवा फुटबाल क्लब में निवेश किया हुआ है। वहीं कपड़ो के ब्रांड रॉन (Wrogn) में भी उनका निवेश है।

yuvraj_singh

युवराज सिंह – युवराज सिंह ने कैंसर के इलाज के बाद यूवीकैन नाम से पहले अपना फांउडेशन शुरू किया था, बाद में उन्होंने इसी नाम से कपड़ों के ब्रांड की शुरुआत की थी।

virendra shavag
virendra shavag

वीरेंद्र सहवाग – वीरेंद्र सहवाग जैसे खिलाड़ी ने भी दिल्ली़ में रेस्टोरेंट बिजनेस में हाथ आजमाया था, हालांकि जल्द ही यह बंद हो गया। अभी उनका झज्जर में सहवाग इंटरनेशनल स्कूल है। जिसमें बच्चों को पढ़ाई के साथ खेल की भी कोचिंग दी जाती है।

जहीर खान ने भी रेस्टोरेंट बिजनेस जेकेस की शुरुआत पुणे से की थी। कपिल देव के भी चंडीगढ़ और पटना में 11 रेस्टोरेंट हैं, वहीं उन्होंने फ्लड लाइट के इंस्टॉलेशन कंपनी की भी शुरुआत की थी। सुनील गावस्कसर भी बिजनेस में हाथ आजमाने में पीछे नहीं रहे, उन्होंने 1985 में स्पो‍टर्स मैनेजमेंट कंपनी प्रोफेशनल मैनेजमेंट ग्रुप की शुरुआत की थी। इसी तरह अनिल कुंबले ने 2010 में टेबिल टेनिस के खिलाड़ी वसंत भारद्वाज के साथ बेंगलुरू में अकादमी की शुरुआत की। यह अकादमी देश भर के स्कूल में नए टैलेंट को खोजकर उन्हें प्रशिक्षण देती है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।