APY के तहत पेंशन सीमा बढ़ाकर 10,000 रुपये प्रतिमाह तक करने पर विचार

नई दिल्ली : सरकार अटल पेंशन योजना (APY) के तहत पेंशन सीमा को बढ़ाकर 10,000 रुपये प्रति माह करने के प्रस्ताव पर विचार कर रही है। इसका मौजूदा स्लैब 5,000 रुपये प्रतिमाह है। वित्तीय सेवा विभाग में संयुक्त सचिव मदनेश कुमार मिश्रा ने यहां पीएफआरडीए द्वारा आयोजित एक सम्मेलन में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि एपीआई के तहत पेंशन मूल्य बढ़ाए जाने की जरूरत है। मिश्रा ने कार्यक्रम के अवसर पर अलग से बताया,‘हमने पेंशन मूल्य को बढ़ाकर 10,000 रुपये तक करने के (पीएफआरडीए द्वारा भेजे गए) प्रस्ताव को देखा है। हम इस पर सक्रियता से विचार कर रहे हैं।’ पेंशन कोष नियामक एवं विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) के चेयरमैन हेमंत जी कॉन्ट्रैक्टर ने कहा कि एपीआई का ग्राहक आधार बढ़ाने के उद्देश्य से यह प्रस्ताव वित्त मंत्रालय को भेजा गया था। उन्होंने कहा ,‘इस समय पेंशन के पांच स्लैब 1,000-5,000 रुपये प्रतिमाह से है।

बाजार से अधिक पेंशन राशि को लेकर कई आग्रह/सुझाव मिले हैं क्योंकि कई लोगों को मानना है कि आज से 20-30 साल बाद 60 साल की उम्र में 5,000 रुपये की राशि पर्याप्त नहीं होगी।’ कॉनट्रैक्टर ने कहा,‘हमने इस प्रस्ताव को सरकार के पास भेजा है कि इस राशि को बढ़ाकर 10,000 रुपये तक किया जाना चाहिए।’ पीएफआरडीए ने दो और प्रस्ताव मंत्रालय को भेजे हैं जिनमें एपीआई के लिए स्वत: नामांकन और इस योजना में शामिल होने की अधिकतम आयु बढ़ाकर 50 साल किया जाना शामिल है।

मिश्रा ने कार्यक्रम के अवसर पर अलग से बताया, ‘हमने पेंशन मूल्य को बढ़ाकर 10,000 रुपए तक करने के (पीएफआरडीए द्वारा भेजे गए) प्रस्ताव को देखा है। हम इस पर सक्रियता से विचार कर रहे हैं।’ पेंशन कोष नियामक व विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) के चेयरमैन हेमंत जी कांट्रेक्टर ने कहा कि एपीआई का ग्राहक आधार बढ़ाने के उद्देश्य से यह प्रस्ताव वित्त मंत्रालय को भेजा गया था। उन्होंने कहा, ‘इस समय पेंशन के पांच स्लैब 1,000-5,000 रुपए प्रतिमाह से है।

बाजार से अधिक पेंशन राशि को लेकर कई आग्रह/सुझाव मिले हैं क्योंकि कई लोगों को मानना है कि आज से 20-30 साल बाद 60 साल की उम्र में 5,000 रुपए की राशि पर्याप्त नहीं होगी।’ कांट्रेक्टर ने कहा, ‘हमने इस प्रस्ताव को सरकार के पास भेजा है कि इस राशि को बढ़ाकर 10,000 रुपए तक किया जाना चाहिए।’ पीएफआरडीए ने दो और प्रस्ताव मंत्रालय को भेजे हैं जिनमें एपीआई के लिए स्वतः नामांकन तथा इस योजना में शामिल होने की अधिकतम आयु बढाकर 50 साल किया जाना शामिल है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.