Advertisements

इस मंत्र के जाप से भगवान गणेश की करें पूजा, सारे कष्ट हो जाएंगे दूर

हिन्दू धर्म में भगवान गणेश की पूजा किसी भी देवता की पूजा से पहले की जाती है. पूजा पथ के अलावा किसी भी शुभ कार्य को करने से पहले भगवान गणेश की पूजा शुभ मानी जाती है. गणेश को कई सारे नमो से जाना जाता है, जैसे- लंबोदर, विनायक, गजानन, गणपति. पूरे देश भर में महाराष्ट्र में भगवान गणेश की पूजा सबसे धूम-धाम से की जाती है.

वहां भगवान गणेश को गणपति बप्पा के नाम से जाना जाता है. भगवान गणेश की पूजा करने से केवल शांति ही नहीं मिलती बल्कि जीवन की कई सारी बाधाएं भी मिट जाती है. भगवान गणेश के ऐसे कई सारे मंत्र है जो आपकी जीवन के सारे बाधाओं को मिटा सकते हैं. जैसे कि,

एकदन्ताय विद्महे वक्रतुंडाय धीमहि तन्नो बुदि्ध प्रचोदयात.

यह गणेश गायत्री मंत्र है इस मंत्र को पढ़ने से आपके पिछले कर्मों में किए गए गलत काम के लिए भगवान गणेश माफ़ कर देते हैं और सारे बिगड़े काम अपने आप ही बनने लगते हैं. इस मंत्र का जाप प्रतिदिन 108 बार करना चाहिए.

ग्लौम गौरी पुत्रवक्रतुंडगणपति गुरू गणेश

ग्लौम गणपतिऋदि्ध पतिसिदि्ध पति. मेरे कर दूर क्लेश.

जीवन में कई बार दु:खों का पहाड़ टूट जाता है. ऐसे में अगर आप भगवान गणेश के इस मंत्र का जाप करते हैं तो आपके जीवन की सारी दुःख दूर हो जाएंगी. चुकि यह एक तांत्रिक मंत्र है तो इस मंत्र का जाप करने वाले व्यक्ति को कुछ परहेज भी करने पड़ते है. जैसे- शराब, धुम्रपान, मांस इत्यादि को छोड़ना होगा. प्रति दिन भगवान शिव, माता पार्वती और गणेश की पूजा कर इस मंत्र का 108 बार जाप करें आपके सारे दुःख दूर हो जाएंगे.

नमो गणपतये कुबेर येकद्रिको फट् स्वाहा.

हर व्यक्ति चाहता है कि उसके पास खूब सारा पैसा हो और वो काफी समृद्ध हो. ऐसे में धन प्राप्ति के लिए आप गणेश कुबेर मंत्र का जाप कर सकते हैं. इस मंत्र का जाप प्रति दिन 11 बार करें. इस मंत्र के जाप से व्यक्ति कर्जमुक्त हो जाता है साथ ही आय के नए स्रोत खुलते हैं.

ग्लां ग्लीं ग्लूं गं गणपतये नम :

प्रकाशय ग्लूं  गलीं ग्लां  फट् स्वाहा||

इस मंत्र का जाप विधिवत तरीके से की जाती है. इसे करने के लिए आप सफ़ेद वस्त्र धारण कर हाथ में अक्षत, दूब और पुष्प लेकर भगवान गणेश का ध्यान करें. इस मंत्र का जाप 1008बार करें. 100 बार मंत्र का जाप पूरा करते ही अक्षत, दूब और पुष्प को भगवान गणेश को अर्पित कर पुनः विधि को दोहराएं. यह मंत्र सारे मंत्रों का तोड़ है. ध्यान रखें इस मंत्र का जाप करते वक़्त सफ़ेद आसानी पर बैठें.

Advertisements
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.