Jan Sandesh Online hindi news website

चुनावी गणित के रणनीतिकार प्रशांत किशोेर बनेंगे जेडीयू का हिस्सा

पटना , चुनावी गणित के माहिर और रणनीतिकार प्रशांत किशोेर रविवार से अपने सियासी सफर की शुरुआत करने जा रहे हैं। जी हां, प्रशांत किशोर बिहार से राजनीति में कदम रखने जा रहे हैं। वह आज पटना में जेडीयू का हिस्सा बनेंगे। प्रशांत किशोर जेडीयू की राज्य कार्यकारिणी की बैठक में नीतीश कुमार की मौजूदगी [...]

पटना , चुनावी गणित के माहिर और रणनीतिकार प्रशांत किशोेर रविवार से अपने सियासी सफर की शुरुआत करने जा रहे हैं। जी हां, प्रशांत किशोर बिहार से राजनीति में कदम रखने जा रहे हैं। वह आज पटना में जेडीयू का हिस्सा बनेंगे। प्रशांत किशोर जेडीयू की राज्य कार्यकारिणी की बैठक में नीतीश कुमार की मौजूदगी में जनता दल यूनाइटेड में विधिवत रूप से शामिल होंगे। खबरों से मिली जानकारी के मुताबिक बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू प्रमुख नीतीश कुमार खुद उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलवाएंगे। प्रशांत किशोर ने खुद भी इस बात की पुष्टि कर दी है कि वह रविवार से अपना राजनीतिक सफर शुरु करने जा रहे हैं। उन्होंने एक ट्वीट कर खुद इस बात की तस्दीक कर दी है कि वह अब पूरी तरह से राजनीति में आ गये हैं। प्रशांत किशोर ने अपने ट्वीट में कहा- बिहार से नई यात्रा शुरू करने के लिए काफी उत्साहित हूं।

बता दें कि 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों के लिए रणनीति तैयार करने हेतू पटना में आज जनता दल यूनाइटेड यानी जेडीयू की राज्यकार्यकारिणी की बैठक है। इस बैठक में पार्टी के नेता, विधायक, सासंद सभी शामिल होंगे। लोकसभा चुनावों के मद्देनजर जेडीयू की ये बैठक अहम मानी जा रही है। कहा जा रहा है कि खुद नीतीश कुमार बैठक में चुनाव की रणनीति के बारे में बताएंगे। ऐसे में इस बैठक मे प्रशांत किशोर का शामिल होना भी अपने आप में खास है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि उन्होंने अपनी नीतियों के दम पर देश के बड़े दलों की झोली जीत का जश्न से भरी है।

और पढ़ें

प्रशांत किशोर 2014 में बीजेपी, 2015 में महागठबंधन और 2017 में उत्तर प्रदेश विधानसभा में कांग्रेस के लिये काम कर चुके हैं। एक वक्त ऐसा भी था जब प्रशांत किशोर जीत की गारंटी बन चुके थो और हर तरप उनकी चर्चा थी। ये वक्त था जब 2014 के चुनाव प्रचार में बीजेपी के प्रचार को उन्होंने ‘मोदी लहर’ में बदल दिया था। उसके बाद उनके बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मतभेद की खबरें आईं और उन्होंने साल 2015 में बिहार विधानसभा चुनाव में आरजेडी, जेडीयू और कांग्रेस के महागठबंधन के प्रचार की कमान संभाल ली। इस चुनाव में बीजेपी को तगड़ी हार का सामना करना पड़ा था।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed.