Jan Sandesh Online hindi news website

कुशीनगर के वित्त एवं लेखाधिकारी से हो गई ढाई लाख की जालसाजी

उपेंद्र कुशवाहा
पडरौना,कुशीनगर : वित्त एवं लेखाधिकारी के पद पर कुशीनगर में तैनात आलोक कुमार राय से जालसाज ने फर्जी खतौनी दिखाकर 2.50 लाख रुपये हड़प लिए। जालसाज ने एक भूमि का फर्जी खतौनी दिखा कर 14.50 लाख रुपये में सौदा तय किया था। उसने ढाई लाख रुपये एडवांस में ले लिया था। इस बीच खतौनी फर्जी होने की जानकारी होने पर वह रुपये वापस मांगने लगे। इस पर उसने चेक दिया लेकिन वह बाउंस हो गया।
और पढ़ें
1 of 308
गोरखपुर बीएसए दफ्तर और मदन मोहन मालवीय इंजीनियरिंग यूनिवर्सिटी में वित्त एवं लेखाधिकारी के पद पर आलोक कुमार राय रह चुके हैं। कैंट पुलिस को दिए तहरीर में उन्होंने बताया है कि गोरखपुर रहने के दौरान दौरान उनकी मुलाकात झारखंडी के प्रकाश श्रीवास्तव नाम के शख्स से हुई थी। गोरखपुर में जमीन खरीदने की इच्छा जताई तो प्रकाश ने एक जमीन का कागज दिखाया और 14.50 लाख में सौदा तय हो गया।
आलोक ने 27 अक्टूबर 2017 को ढाई लाख रुपये एडवांस के तौर पर दे दिए। फिर उनको कहीं से फर्जीवाड़े की जानकारी हो गई तो प्रकाश से संपर्क किया। प्रकाश ने रुपये वापसी को कहते हुए चेक भी दे दिया लेकिन चेक से भुगतान नहीं हो पाया। आलोक ने सीओ कैंट को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की थी। कैंट पुलिस केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed.