Jan Sandesh Online hindi news website

CM Yogi ने लिया बड़ा फैसला, 25 हजार सिपाहियों का प्रमोशन करने का ऐलान

लखनऊ। यूपी पुलिस के कांस्टेबल लखनऊ गोलीकांड के बाद से आरोपी प्रशांत को बचाने के लिए लगातार विरोध कर रहे हैं। कई सिपाहियों को इस बीच निलंबित भी किया गया। इसी बीच यूपी पुलिस के लिए एक राहत भरा फैसला सरकार व प्रशासन ने लिया है। यूपी पुलिस में पहली बार एक साथ 25091 कांस्टेबल को हेड कांस्टेबल के पद पर प्रमोट किया गया है। प्रमोशन पाने वालों में वर्ष 1975 से 2004 बैच के कांस्टेबल शामिल हैं। जिसके चलते पूरा प्रशासन बैकफुट पर आ गया है। इसी के चलते प्रशासन ने इस विरोध को ठंडा करने के लिए ये निर्णय लिया है कि उत्तर प्रदेश में 25 हजार से ज्यादा सिपाहियों का प्रमोशन होगा। इन्हें कॉन्स्टेबल से प्रमोट करके हेड कॉन्स्टेबल बनाया जाएगा। उम्मीद है कि सरकार व प्रशासन के इस फैसले से आक्रोशित पुलिसकर्मियों को शांत किया जा सकेगा।

बता दें कि यूपी पुलिस में पहली बार इतनी बड़ी तादाद में सिपाहियों का प्रमोशन हो रहा है। सिपाहियों को प्रमोट करने की पहल राज्य के डीजीपी की तरफ से की गई है। मिली जानकारी के मुताबिक 1975 के बैच से 2004 तक के सिपाहियों को प्रमोट करके हेड कॉन्स्टेबल बनाया जाएगा।

और पढ़ें
1 of 2,101

इसलिए हो रहा प्रमोशन

इससे पहले बड़े पैमाने पर साल 2016 में 15,803 पुलिसकर्मियों का प्रमोशन किया गया था। इन कॉन्स्टेबल के प्रमोट होने के बाद भी पुलिस महकमे में हेड कॉन्स्टेबल के करीब 11852 पद खाली पड़े हैं। प्रमोशन के लिए करीब 29000 कॉन्स्टेबल के नाम पर विचार हुआ। लेकिन 4000 को प्रमोशन के लिए उपयुक्त नहीं पाया गया।

गौरतलब है कि 2018 में सबसे ज्यादा अराजपत्रित पुलिसवालों को प्रमोशन मिला है। वर्ष 2016 में कुल 15803, वर्ष 2017 में 8910 और वर्ष 2018 में अब तक 36062 लोगों को प्रमोट किया जा चुका है। इसमें 2197 दारोगा इंस्पेक्टर के पद पर और करीब 7600 हेड कांस्टेबल दारोगा के पद पर प्रमोट हुए हैं।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed.