fbpx
Advertisements
jansandesh online,Hindi News, Latest Hindi news,online hindi news portal

CM YOGI सरकार ने वादा निभाया: कल्पना तिवारी को मिली ओएसडी की नौकरी, Deputy CM की मौजूदगी में दिया गया नियुक्ति पत्र

लखनऊ। विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी को योगी आदित्यनाथ सरकार ने नौकरी देने का वादा किया था और सरकार ने अपने वादे को जल्द ही निभा भी दिया। इसके लिए आज नगर आयुक्त इन्द्रमणि त्रिपाठी, कल्पना तिवारी को नियुक्ति पत्र सौंपेंगी। शासन के निर्देश पर कल्पना तिवारी के शैक्षिक दस्तावेज पहले ही ले लिए गए थे। विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी को राजधानी के न्यू हैदराबाद स्थित उनके आवास पर ओएसडी पद का नियुक्ति पत्र सौंपा गया। कल्पना तिवारी ने नियुक्ति पद पर हस्ताक्षर किए।

नियुक्ति पत्र लेकर डिप्टी सीएम डाक्टर दिनेश शर्मा, कैबिनेट मंत्री आशुतोष टण्डन, महापौर संयुक्ता भाटिया, विधायक डाक्टर नीरज बोरा, डीएम कौशलराज शर्मा, नगर आयुक्त पहुंचे, इन सबकी मौजूदगी में कल्पना तिवारी ने नियुक्ति पत्र पर अपने हस्ताक्षर किए। स्वर्गीय विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी को नगर निगम में ओएसडी पद पर नियुक्ति की गई है।

कल्पना तिवारी के घर में मौजूद डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा।

उनकी सैलरी प्रति माह 56100 से 1,77,500 रुपए होगी।आपको बता दें कि लखनऊ के गोमती नगर में विवेक तिवारी की सिपाही प्रशांत चैधरी ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। जिसके बाद से यूपी सरकार लगातार कल्पना का समर्थन कर रही है। मुआवजे के साथ ही सरकार ने कल्पना तिवारी को नगर निगम में ओएसडी बनाए जाने का आश्वासन दिया था।विवेक तिवारी हत्याकांड की अभी भी जांच की जा रही है।

आरोपी सिपाहियों को बर्खास्त कर जेल भेजा जा चुका है। कल्पना तिवारी ने सरकार से मिल रही मदद पर संतुष्टि जाहिर की थी।प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा हादसे के बाद खुद पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे थे और उन्हें मदद का भरोसा दिलाया था।

कल्पना तिवारी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी मुलाकात की थी। प्रदेश सरकार ने विवेक तिवारी की बेटियों की शिक्षा व भविष्य के लिए पांच-पांच लाख रुपये की भी मदद की थी।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।