Jan Sandesh Online hindi news website

दिल्ली पुलिस के चंगुल में फंसा BSP के पूर्व सांसद का ‘पिस्तौलबाज’ बेटा, पढ़े पूरी खबर

दिल्ली। दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में यूपी के एक शख्स ने खुलेआम पिस्तौल दिखाकर होटल के स्टाफ को धमकाया और गालियां दीं. आरोपी बीएसपी के पूर्व सांसद राकेश पांडेय का बेटा बताया जाता है. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है.।

अब इस घटना की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वीडियो में शख्स के साथ उसकी गर्लफ्रेंउ भी नजर आ रही हैं. वह भी होटल के स्टाफ से बदतमीजी कर रही हैं. दोनों की किसी बात को लेकर होटल के स्टाफ से बहस हो गई थी. इस पर सांसद के बेटे ने पिस्तौल निकाल ली और धमकाने के अंदाज में अभद्र तरीके से बातचीत करने लगा।

दिल्ली के फाइव स्टार होटल हयात में पिस्टल लेकर दबंगई करने वाले यूपी के पूर्व सांसद के बेटे आशीष पांडेय के मामले ने अब तूल पकड़ लिया है। उत्तर प्रदेश के एक रसूखदार राजनीतिक परिवार से संबंध रखने वाले आशीष के पिता राकेश पांडेय पूर्व सांसद रह चुके हैं, जबकि उनके चाचा और भाई विधायक हैं। आशीष खुद रियल स्टेट और शराब के कारोबार में हैं।

होटल में पिस्टल लेकर दबंगई करने वाले आशीष के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने लुकआउट नोटिस जारी कर दिया है। शनिवार रात आशीष पांडेय ने पिस्तौल लेकर दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में खूब ड्रामा किया था।

और पढ़ें
1 of 197

उसके साथ 3 लड़कियां भी मौजूद थीं। एक दूसरे कपल को पिस्तौल से धमकाते पूर्व सांसद के बेटे का विडियो वायरल होने के बाद दिल्ली पुलिस ऐक्शन के लिए ऐक्टिव हुई है।

आशीष पांडेय लखनऊ में रहकर रियल स्टेट और शराब का व्यवसाय करते हैं। इसके अलावा वह कई जिलों में खनन का भी काम करते हैं। आशीष पांडेय की पढ़ाई देहरादून से शुरू हुई और विदेश तक चली। आशीष पांडेय लक्जरी कारों और असलहों के शौकीन भी हैं।

पिता राकेश पांडेय बीएसपी से पूर्व सांसद रह चुके हैं, जबकि भाई रीतेश पांडेय जलालपुर से बीएसपी से विधायक हैं। आशीष पूर्व बाहुबली विधायक पवन पांडेय के भतीजे हैं।

जबकि इनके दूसरे चाचा कृष्ण कुमार पांडेय सुलतानपुर के इसौली से बीएसपी से चुनाव लड़ चुके हैं। आशीष पांडेय के दोनों चाचा कृष्ण कुमार उर्फ कक्कू पांडेय और पवन पांडेय का जिले में काफी लंबा आपराधिक इतिहास है।

कक्कू पांडेय को बहुचर्चित केरे सिंह हत्याकांड में आजीवन कारावास की सजा मिली थी, लेकिन बाद में वह हाई कोर्ट से बरी हो गए और मौजूदा समय मे कांग्रेस पार्टी में हैं।आशीष के खिलाफ उसके गृह जिले अंबेडकरनगर में कोई भी आपराधिक केस नहीं दर्ज है। आशीष अंबेडकरनगर से कम ही सरोकार रखते हैं। आशीष अपने पिता और भाई के चुनाव या फिर किसी पारिवारिक कार्यक्रम में ही अंबेडकरनगर आते हैं।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed.