Advertisements

झारखंड : कांडी प्रखण्ड में नम आंखों से श्रद्धालुओं के द्वारा मां की की गयी विदाई

विवेक चौबे

कांडी-प्रखण्ड क्षेत्र अंतर्गत सभी पूजा पंडालों में स्थापित मां दुर्गा का विसर्जन किया गया।कुल 50 स्थानों पर मूर्ति स्थापित किए गए थे।आधा से कुछ कम गांवों की मूर्तियों का विसर्जन दिन-शुक्रवार को ही कर दिया गया था।वहीं शेष मूर्तियों का विसर्जन दिन-शनिवार को कर दीया गया।मूर्ति विसर्जन यात्रा में नवयुवकों के द्वारा आधुनिक डीजे साउंड पर जबरदस्त नृत्य पेश किया गया।

कांडी प्रखण्ड में नम आंखों से श्रद्धालुओं के द्वारा मां की की गयी विदाई

बताते चलें कि ग्राम-हरिगावां,सुंडिपुर-उतरे टोला, नैनाबार, कांडी,शिवरी,भिलमा,मझिगावां,लमारी कला,घटहुआँ कला,ग्रामपंचायत-पतहरिया,ग्रामपंचायत-चटनियां सहित अन्य गांवों की मूर्ति का विसर्जन किया गया।

10 दिनों तक चलने वाला दशहरा त्योहार के बाद अर्थात एकादशी को मां दुर्गा के प्रतिमा विसर्जन के साथ संपन्न हो गया। श्रद्धालुओं ने नम आंखों से मां को विदाई दी।शनिवार को 2 बजे से ही प्रतिमाओं को विसर्जन के लिए निकालने का सिलसिला शुरू हो गया था।विसर्जन जुलूस काफी भव्य व आकर्षक रहा ,जिसमें सभी वर्ग के लोगों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया।

खबर लिखे जाने तक विसर्जन कार्यक्रम शांति व सौहार्दपूर्ण सम्पन्न हुआ।इस विसर्जन यात्रा में प्रखण्ड प्रमुख प्रतिनिधि-पिंकू पाण्डेय, उपप्रमुख प्रतिनिधि-अशोक प्रसाद ने कांडी,शिवरी,भिलमा,नैनाबर सहित अन्य गांवों के मूर्ति विसर्जन यात्रा में शामिल हुए।कांडी मुखिया विनोद प्रसाद ने बताया कि विसर्जन यात्रा अति आकर्षक रहा व सौहार्द्र पूर्ण सम्पन्न हुआ।रानाडीह पंचायत मुखिया-कृष्णा दास ने बताया कि मिल जुल कर लोगों के द्वारा मां को नम आंखों से विदाई दी गयी।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।