Advertisements

UP : चिकित्सा अधिकारियों ने इस कारण दे दिया सामूहिक त्यागपत्र, प्रशासन में मचा हड़कंप

कानपुर। यूपी प्रांतीय चिकित्सा सेवा संघ की बैठक सोमवार देर शाम मुख्य चिकित्सा अधिकारी के कार्यालय कक्ष में हुई। बैठक में चिकित्सा अधिकारियों ने जिलाधिकारी पर उत्पीड़न किए जाने का आरोप लगाया।

सर्वसम्मति से बैठक में निर्णय लिया गया कि अगले सात दिन तक काला फीता बांधकर सभी चिकित्सक कार्य करेंगे। साथ ही सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी पद से सामूहिक त्याग पत्र दे दिया। इसकी जानकारी मिलते ही सीएमओ ने सभी से वार्ता की। सीएमओ का दावा है कि त्यागपत्र वापस लेने पर सभी प्रभारी तैयार हो गए हैं।

प्रांतीय चिकित्सा सेवा संघ के अध्यक्ष डॉ. स्वामी दयाल और सचिव डॉ. शरद वैश्य ने बताया कि जिलाधिकारी लगातार चिकित्सा प्रभारियों का उत्पीड़न कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे कार्य भी चिकित्साधिकारियों से कराए जा रहे हैं जो उनकी जिम्मेदारी में नहीं है।

इसके अलावा अमर्यादित ढंग से वार्ता किए जाने का आरोप भी लगाया। बैठक के दौरान सामूहिक रूप से प्रभारी पद से त्याग पत्र सीएमओ डॉ. एसके रावत को सौंप दिया गया। उधर, जिलाधिकारी पुलकित खरे का कहना है कि कुछ चिकित्सा अधिकारी नियमानुसार कार्य नहीं कर रहे हैं।

एसोसिएशन की आड़ लेकर ऐसे लोग ही कार्य बाधित करने की कोशिश कर रहे हैं। सीएमओ डॉ. एसके रावत ने बताया कि सभी चिकित्सा अधिकारियों से वार्ता हो गई है। वह लोग अगले सात दिन तक काला फीता बांधकर कार्य करेंगे। त्यागपत्र वापस लेने पर सहमति जताई है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।