Jan Sandesh Online ,Latest Hindi News Portal

Video : दुनिया पहला भाग्यशाली डॉगी जिसे मानद डिप्लोमा से किया गया सम्मानित, जानिये क्यों

न्यूयॉर्क । आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि अमेरिका के न्यूयॉर्क में स्थित क्लार्कसन यूनिवर्सिटी एक 25 वर्षीय लड़की के साथ उसके सर्विस डॉगी को भी मानद डिप्लोमा दिया गया है. व्हीलचेयर का सहारा लेने वाली ब्रिटनी हौले की ग्रिफिन काफी ज्यादा मदद करता है. ब्रिटनी के एक ही इशारे में ग्रिफिन दरवाजे खोलना, लाइट खोलना और चीजों को उसतक पहुंचाने बखूबी जानता है। ब्रिटनी हाउले को कक्षा में जब भी किसी चीज की जरूरत पड़ती उनका मददगार कुत्ता हाजिर रहता। अगर उन्हें अपने मोबाइल फोन की जरूरत होती तो इसे भी वह उन्हें ढूंढकर दे देता। यहां तक कि अपनी इंटर्नशिप के तहत जब वह मरीजों की मदद कर रही होती थीं तब भी वह बगल में दुम हिलाते हुए मंडराता रहता था।

और पढ़ें

अमेरिका के न्यूयॉर्क में क्लार्कसन यूनिवर्सिटी पढ़ने वाली 25 वर्षीय अपंग लड़की ब्रिटनी हौले का डॉगी ग्रिफिन ने यह बात सच साबित करके भी दिखाई है. क्लार्कसन विश्वविद्यालय से ऑक्यूपेशनल थैरेपी में मास्टर डिग्री पूरा करने के बाद जब हाउले अपना डिप्लोमा ले रही थीं तो ग्रिफिन नामक यह कुत्ता भी उनके साथ मौजूद था। हाउले ने सोमवार को कहा कि स्नातक की कक्षा के पहले दिन से ही वह उसके साथ रहा। उन्होंने कहा, जो मैंने किया, इसने भी वह सब कुछ किया। लेकिन इसके साथ साथ उनके 4 साल के सर्विस डॉगी ग्रफिन को भी डिप्लोमा दिया गया।

व्हीलचेयर पर जिंदगी गुजार रहीं ब्रिटनी हौले डॉगी ग्रिफिन को लेकर कहती हैं कि मैंने पहले दिन से ही उसे ग्रेजुएट होने के लिए प्रोत्साहित किया था. वो हमेशा वही सब करता था जो मैं करती थी. उन्होंने कहा कि ग्रिफिन काफी तादाद में फिजिकल टास्क पूरे करता है. जैसे वह दरवाजे खोलना, लाइट खोलना और जरा से इशारे पर उनतक चीजें पहुंचाना काफी बेहतर तरीके से जानता है. लेकिन सबसे जरूरी बात है कि ग्रिफिन की मदद से ब्रिटनी को डिप्रेशन, थकान पैदा करने वाले भयंकर दर्द से आराम मिलता है. ।

वहीं ग्रिफिन को लेकर ब्रिटनी कहती हैं कि जब वे सर्विस डॉगी के लिए ”पौज 4 प्रिजन” पहुंची थी तो वहां काफी संख्या कुत्ते मौजूद थे. लेकिन कुछ डॉगी व्हीलचेयर की वजह से ब्रिटनी के पास आने से घबरा रहे थे. अचानक ग्रिफिन छंलाग लगाते हुए मेरे गालों को प्यार में चाटने लगा. बता दें कि हौले और ग्रिफिन ने उत्तरी कैरोलिना में फोर्ट ब्रैग में इंटर्नशिप के दौरान काम किया।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed.