Jan Sandesh Online hindi news website

प्रयागराज जा रहे अखिलेश को रोकने पर व कार्यकर्ताओ के विरोध पर हुए लाठीचार्ज को लेकर सपाइयों ने की घोर निंदा।

रिपोर्ट:सैय्यद मकसूदुल हसन

मुसाफिरखाना(अमेठी)।।प्रयागराज जा रहे समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को योगी सरकार के द्वारा जबरन रोक लिया और कार्यकर्ताओं को रोकने पर बराबर लाठीचार्ज किये जाने की समाजवादी कार्यकर्ताओ ने घोर निंदा की।प्रयागराज यूनिवर्सिटी व कुम्भ मेले में जाने के लिए एयरपोर्ट पर अखिलेश यादव को रोक दिया गया।जिसका विरोध करने पर कार्यकर्ताओं के ऊपर बर्बर हिटलर शाही सरकार द्वारा किये गए लाठीचार्ज की निंदा करते हुए समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष छोटे लाल यादव व सपा के वरिष्ठ नेता सैय्यद मकसूदुल हसन ने कहा कि प्रदेश में सपा बसपा गठबंधन से खिसआई भाजपा सरकार बेशर्मी पर उतर कर लखनऊ व प्रयागराज के समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज कराके धर्मेंद्र यादव सहित दर्जनों कार्यकर्ता घायल हुए उक्त दोनों नेताओं ने भाजपा सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है।

और पढ़ें
1 of 273

कि सपा कार्यकर्ताओं का सब्र टूटा तो परिणाम भयानक होंगे।वही समाजवादी पार्टी की पूर्व महिला जिलाध्यक्ष शहला शाहिद ने कहा कि योगी सरकार सपा के किये गए कार्य को न देखपाकर आये दिन पार्टी कार्यकर्ताओं पर हमला क्यो कर देती है मुझे तो लगता है कि यह बीजेपी सरकार अखिलेश यादव विपक्ष में रहते हुए भी उनकी बढ़ती लोकप्रियता से आहत हो गयी जिससे यूनिवर्सिटी के छात्रों व कार्यकर्ताओं पर हमला करा बैठी। वही समाजवादी पार्टी के सपा नेता राम उदित यादव ने कहा कि योगी जी सारे हिंदुओ के ठेकेदार हो गए हैं, हिन्दू पर्व पर लोग इनसे दर्शन करने जाएंगे।हम समाजवादी इस सरकार से डरने वाले नही है डटकर मुकाबला करना हमारा धर्म रहा है और आगे रहेगा।निंदा करने वालो में ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि दिनेश सिंह पप्पू, सपा सभासद हसन उल्ला,तेजप्रताप सिंह, छात्र सभा के हर्ष यादव,अजय सिंह,वंशराज सिंह, जिला महासचिव रसूल बख्श राइन आदि ने घोर निंदा करते हुए इस तानाशाही सरकार को कायरतापूर्ण कदम बताया।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed.