Jan Sandesh Online hindi news website

चौंकाने वाला मामला : पुलिस से परेशान दो सगी बहनों ने पीएम मोदी से मांगी इच्छा मृत्यू

मेरठ। यूपी के मेरठ में दो सगी बहनों द्वारा देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इच्छा मृत्यू की मांग करने का सबको चौंकाने वाला मामला सामने आया है. इस संबंध में दोनों बहनों ने एसएसपी कार्यालय पहुंचकर प्रार्थना पत्र सौंपा।

मेरठ में बेगमबाग निवासी दिशा और हर्षिता मंगा जेल में बंद अपने पिता और चाचा को न्याय दिलाने के लिए दर-दर भटक रही हैं. दोनों बहनों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र भेजकर इच्छामृत्यु करने की अनुमति मांगी है. आरोप है कि पुलिस ने उनके पिता व चाचा पर झूठा मुकदमा लगाकर जेल भिजवा दिया।

और पढ़ें
1 of 321

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजे पत्र में आरोप लगाते हुए बताया कि कुछ समय पहले लालकुर्ती थाने में एक करोड़ के सोने की हेराफेरी के संबंध में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी. पुलिस ने बिना किसी ठोस सुबूत के उनके पिता विशाल मंगा और चाचा को अभियुक्त बनाकर जेल भेज दिया था.।

पुलिस ने प्रकरण में साक्ष्य के तौर पर स्टांप पेपर शामिल किए, लेकिन वह नोटरी नहीं हैं. साथ ही उन्हें खरीदने वाले भी कोई और हैं. इस मामले में लालकुर्ती थाने के एक तत्कालीन दरोगा की भूमिका संदिग्ध रही।

दरोगा समय-समय पर घर आकर परिवारजनों पर तीन लाख रुपये देने का दबाव बनाता. ऐसा न करने पर झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी देता. आर्थिक रूप से कमजोर परिवार ने जब दरोगा की मांग पूरी नहीं की तो उसने झूठा बरामदगी दिखाकर उनके पिता को अपराधी बना डाला. तब से उनके पिता व चाचा जेल में ही हैं. सएसपी को सौंपा प्रार्थना पत्र सौंपा है।

दोनों बहनें एसएसपी नितिन तिवारी से भी उनके कार्यालय में मिलीं. प्रार्थनापत्र सौंपकर एसएसपी को प्रकरण की जानकारी दी. कहा कि अगर पूरे मामले की निष्पक्ष जांच हो जाए तो दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed.