Jan Sandesh Online hindi news website

सबसे बड़ी हैरानी: जन्मा 250 ग्राम का दुनिया का सबसे छोटा बेबी , आखिर में मौत से जंग ….

जापान । वैसे तो आपने दुनिया के सबसे छोटे इंसान, लंबे इंसान, सबसे ज्यादा जीने वाले इंसान के बारे में सुना होगा। लेकिन साल 2018 अगस्त में जापान में जन्मे एक बच्चे (लड़के) का वजन सिर्फ 268 ग्राम है यानी अढ़ाई सौ ग्राम के थोड़ा ज्यादा।

सबसे बड़ी हैरानी की बात ये है कि यह बच्चा अपनी मां के कोख में सिर्फ 20 हफ्ते ही रहा, यानी सिर्फ करीब 5 महीने में ही ऑपरेशन के जरिए डिलीवर किया गया।

और पढ़ें
1 of 278

इसके जन्म पर डाक्टरों ने इसके जिंदा रहने पर सवाल उठाए थे। डाक्टरों का कहना था कि ऐेसे बच्चों की जन्म के कुछ देर बाद ही मौत हो जाती है। लेकिन 268 ग्राम के इस प्रीमैच्योर बेबी ने मौत से जंग जीत कर डाक्टरों को हैरान कर दिया है।

जापान में जन्में बच्चे का वजन सिर्फ 268 ग्राम था और इसे दुनिया का सबसे नन्हा बच्चा बताया जा रहा है। इस बच्चे का इलाज कर डॉक्टरों ने ये साबित कर दिया है कि जिन नवजात का वजन बेहद कम होता है, उन्हें भी इलाज कर स्वस्थ किया जा सकता है।

इस बच्चे की मां का कहना है कि – मैं बहुत खुश हूं मेरा बच्चे ने बाहर आकर ग्रो किया, क्योंकि जब ये जन्मा था तो इस बात का अंदाजा लगाना मुश्किल था कि ये सर्वाइव कर पाएगा या नहीं।

वहीं, बच्चे की देखरेख कर रही डॉक्टर तकेशी का कहना है कि मैं चाहती हूं लोग जानें कि इतने कम वजन वाले बच्चे भी सही सलामत अपने घर हेल्दी होकर जा सकते हैं। उन्होंने आगे बताया कि इस बच्चे का प्रेग्नेंसी के दौरान ही अपनी मां के पेट में वजन बढ़ना बंद हो गया था

टोक्यो के कीयो यूनिवर्सिटी के मुताबिक इस बच्चे का जन्म पिछले साल अगस्त में इमरजेंसी सीजेरियन सेक्शन के जरिए हुआ था क्योंकि 24 हफ्ते तक गर्भ में रहने के बाद भी उसका वजन नहीं बढ़ रहा था और डॉक्टर को उसकी जान खतरे में लगी।

बच्चे का वजन 3,238 ग्राम होने के बाद उसे अस्पताल से छोड़ा गया। ऐसा पहली बार नहीं हुआ है। इससे पहले साल 2009 में जर्मनी में 274 ग्राम के नवजात का जन्म हुआ था।

फिर 2015 में जर्मनी में ही 252 ग्राम की बच्ची का जन्म हुआ था। सबसे नन्हे नवजातों की रजिस्ट्री वेबसाइट के मुताबिक दुनिया भर में 23 प्रीमैच्योर नवजात ऐसे हुए हैं, जिनका वजन 300 ग्राम से कम रहा और इसके बावजूद वो बिलकुल स्वस्थ हुए।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed.