fbpx
jansandesh online,Hindi News, Latest Hindi news,online hindi news portal

न्यूजीलैंड: क्राइस्टचर्च की दो मस्जिदों में राइफल से हमला, 40 लोगों की मौत, बाल-बाल बची बांग्लादेशी क्रिकेट टीम

न्यूजीलैंड की मस्जिद में नरसंहार

वेलिंग्टन। क्राइस्टचर्च की दो मस्जिदों में अज्ञात हमलावरों की गोलीबारी से हड़कंप मचा हुआ है। न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न का कहना है कि दो मस्जिदों पर हुए हमले में 40 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। यह आतंकी हमला था। कई अन्य के घायल होने की खबर है। पुलिस के अनुसार, घटना के बाद 4 लोगों को हिरासत में लिया गया है। शहर को लॉकडाउन कर दिया गया है, यानी कोई भी व्यक्ति शहर के अंदर या शहर से बाहर नहीं जा सकता। वहीं, घटना के दौरान वहां बांग्लादेश क्रिकेट टीम के खिलाड़ी भी मौजूद थे जो सुरक्षित निकलने में कामयाब रहे।

न्यू जीलैंड के हमले में 40 लोगों की मौत और कई के घायल होने की खबर है। पहला हमला अल नूर मस्जिद में हुआ। यह जानकारी न्यू जीलैंड की प्रधानमंत्री ने दी है। बताया जा रहा है कि गोलीबारी के वक्त बांग्लादेश की क्रिकेट टीम मस्जिद में मौजूद थी, लेकिन वह सुरक्षित बच निकलने में कामयाब रही। गोलीबारी के सिलसिले में चार लोगों को हिरासत में लिया गया है।


पुलिस कमिश्नर माइक बुश ने कहा कि पुलिस ने तीन पुरुष और एक महिला संदिग्ध को हिरासत में लिया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में कई और संदिग्धों को हिरासत में लिया जाएगा। न्यू जीलैंड की सरकार ने देश की सभी मस्जिदों को बंद करने का आदेश दिया है।

वहीं ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने इस बात की पुष्टि की है कि न्यू जीलैंड में गिरफ्तार चार लोगों में एक ऑस्ट्रेलियन भी है। चश्मदीदों की मानें तो हमलावर ने काले कपड़े पहने हुए हैं और वह सिर पर हेलमेट लगाए हुए था। उसके पास स्वचालित हथियार है, जिससे वह फायरिंग कर रहा था। न्यू जीलैंड पुलिस ने पूरे इलाके को घेर लिया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक हमले के दौरान बांग्लादेश की क्रिकेट टीम वहीं पर थी। मस्जिद में गोलीबारी की जानकारी मिलते ही सभी खिलाड़ी बाकी लोगों के साथ किसी तरह मस्जिद से निकल आए। सभी को पास के पार्क के साथ वाले रास्ते से वापस ओवल मैदान की तरफ लाया गया। बता दें कि बांग्लादेश क्रिकेट टीम इस वक्त न्यू जीलैंड दौरे पर है। शनिवार को दोनों के बीच तीसरा टेस्ट मैच क्राइस्टचर्च में ही खेला जाना था, जिसे सुरक्षा कारणों से रद्द कर दिया गया है।

न्यू जीलैंड की पीएम जैसिंडा ऑर्डर्न ने इसे देश का सबसे काला दिन करार देते हुए कहा है कि मस्जिद में कई जगहों से फायरिंग हो रही है। उन्होंने लोगों को सुरक्षित जगह रहने का आग्रह करते हुए कहा कि हमलावर अभी भी सक्रिय है वह और लोगों को नुकसान पहुंचा सकता है। उन्होंने कहा, श्न्यू जीलैंड में हिंसा की कोई जगह नहीं है।

मस्जिद में जुमे की नमाज के लिए काफी लोग आए थे। अल नूर मस्जिद में हमले के वक्त 200 से ज्यादा लोग मौजूद थे, तभी गोलियां की आवाज सुनाई पड़ी थी। मीडिया में ऐसी भी अपुष्ट खबरें है कि हमलावर ने हमले से पहले फेसबुक लाइव किया था। हालांकि रिपोर्ट्स के अनुसार फेसबुक ने तुंरत उसका अकाउंट सस्पेंड कर दिया।

हमलावर के फेसबुक लाइव की खबरों की न्यू जीलैंड सरकार ने पुष्टि नहीं की है।न्यू जीलैंड के पुलिस कमिश्नर ने माइक बुश ने कहा कि जहां तक मेरी जानकारी है इस हमले में कई लोग मारे गए हैं। उन्होंने बताया कि पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया है।उन्होंने बताया, श्तीन पुरुष और एक महिला को हिरासत में लिया गया है। हम स्थिति का जायजा ले रहे हैं। हम अभी नहीं मान सकते कि खतरा टल गया है।

रेडिया न्यू जीलैंड ने अल नूर मस्जिद के प्रत्यक्षदर्शियों के हवाले से बताया कि कम-से-कम चार लोग जमीन पर पड़े हुए थे। चारों तरफ खून बिखरा हुआ है। एक अन्य प्रत्यक्षदर्शी ने मीडिया को बताया मिलिटरी स्टाइल में कपड़े पहने शख्स ऑटोमेटिक राइफल लिए हुए था और उसने अचानक अल नूर मस्जिद में फायरिंग शुरू कर दी।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

%d bloggers like this:
 cheap jerseys