Jan Sandesh Online hindi news website

312 साल के इतिहास में पहली बार ब्रिटिश संसद में अर्धनग्न प्रदर्शन

लंदन। 312 साल पुरानी ब्रिटेन की संसद के इतिहास में सोमवार को पहली बार अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया गया। ब्रेग्जिट समझौते की शर्तों में जलयवायु परिवर्तन (क्लाइमेट चेंज) का मुद्दा शामिल नहीं करने पर नाराज पर्यावरण कार्यकर्ताओं ने अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया।

एक्सिंटशन रेबेलियन ग्रुप के 11 कार्यकर्ताओं ने संसद की पब्लिक गैलरी में 20 मिनट तक अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी गैलरी में बनी कांच की दीवार से सटकर खड़े थे और इनकी पीठ सांसदों की तरफ थी। इनकी छाती पर सब जिंदगी के लिए जैसे नारे लिखे थे।

और पढ़ें
1 of 173

पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को सार्वजनिक स्थल की गरिमा भंग करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। बता दें कि ब्रिटेन की संसद 1707 में बनी थी। दुनिया के कई लोकतंत्रों के लिए यह उदाहरण है, इसलिए इसे मदर ऑफ पार्लियामेंट कहा जाता है।

1978 में घोड़े की लीद फेंकी गई थी: जुलाई 1978 में माल्टा के पूर्व प्रधानमंत्री डोम मिन्टॉफ की बेटी याना ने स्कॉटिश होम रूल पर बहस के दौरान गैलरी से सांसदों पर घोड़े की लीद से भरे बैग फेंके थे। ये बैग फट गए थे और गंदगी बेंच व सांसदों पर फैल गई थी।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed.