fbpx
jansandesh online,Hindi News, Latest Hindi news,online hindi news portal

विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे लंदन में गिरफ्तार, 1 करोड़ से ज्यादा गोपनीय दस्तावेजों को किया लीक

लंदन । विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन अंसाजे को लंदन स्थित इक्वाडोर दूतावास से अरेस्ट कर लिया गया है। बीते 7 सालों से असांजे ने इक्वाडोर के दूतावास में शरण ले रखी थी। एक यौन उत्पीड़न के केस में स्वीडन में प्रत्यर्पित किए जाने से बचने के लिए असांजे ने दूतावास को अपना ठिकाना बना रखा था। लंदन की मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने कहा कि फिलहाल असांजे को हिरासत में लिया गया है और उन्हें वेस्टमिन्सटर मजिस्ट्रेट कोर्ट के समक्ष पेश किया जाएगा।

गौरतलब है कि असांजे ने 2010 में बड़ी संख्या में अमेरिकी गोपनीय दस्तावेजों को सार्वजनिक किया था। असांजे ने स्वीडन में प्रत्यर्पण से बचने के लिए 2012 में इक्वाडोर के दूतावास में शरण ली थी। बाद में स्वीडन ने असांजे पर से सेक्स अपराध से जुड़े मामले को हटा दिया।

इसके बावजूद असांजे दूतावास में ही बने रहे क्योंकि जमानत का मामला खत्म हो जाने की वजह से लंदन में उनपर गिरफ्तारी की तलवार लटकी रही थी। बीते साल 12 दिसंबर से उन्हें इक्वाडोर की नागरिकता मिली।

विकिलीक्स की स्थापना 2006 में ऑस्ट्रेलिया में जन्मे असांजे ने की थी। असांजे ने कहा था कि वह गोपनीय जानकारी को पब्लिश करने और सूत्रों की सुरक्षा के लिए एनक्रिप्शन और सेंसरशिप-प्रूफ वेबसाइट का इस्तेमाल करेंगे।

सबसे पहले 2007 में इसे दुनिया का ध्यान अपनी ओर तब खींचा जब इसने ग्वांतानामो बे में रह रहे अमेरिकी जेल गार्ड्स के लिए बने नियमों को जारी किया।

लेकिन 2010 में विकिलीक्स ने तब उड़ान भरी जबकि द न्यू यॉर्क टाइम्स, द गार्जियन, डेर स्पाइगेल, ले मोंडे और अल पाइस के साथ काम किया और लाखों गोपनीय राजनीतिक दस्तावेजों को पब्लिश किया। अभी तक विकिलीक्स ने राजनीतिज्ञों, सरकारों और संगठनों से जुड़े 1 करोड़ से ज्यादा दस्तावेज और इनसे जुड़े विश्लेषण लीक किए हैं।

विकिलीक्स के शुरुआती दिनों में अमेरिका से लेकर यूरोप, चीन, अफ्रीका और मिडिल ईस्ट तक की सरकारों के गोपनीय दस्तावेजों को लीक किया। लेकिन कुछ समय बाद विकिलीक्स ने अमेरिका से जुड़े दस्तावेजों को लीक करने का सिलसिला बढ़ा दिया। असांजे ने उन दावों को खारिज कर दिया जिनमें विकिलीक्स और रूस के एकसाथ काम करने की बातें कही गई थीं।

विकिलीक्स ने 2016 में अमेरिका की डेमोक्रेटिक पार्टी के अधिकारियों के उन ईमेल्स को रिलीज कर हलचल मचा दी थी, जिनमें प्रेजिडेंशल प्राइमरी चुनावों में लेफ्ट-विंग के बर्नी सेंडर्स की जगह हिलेरी क्लिंटन को समर्थन देने और बड़े पद पर बैठे पार्टी मेंबर्स से इस्तीफा देने को कहा गया था।

विकिलीक्स पर बेहद रूढ़िवादी सऊदी अरब में एक गे व्यक्ति की पहचान उजागर करने के आरोप भी लगे। लेकिन, एक बार फिर विकिलीक्स ने अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज कर दिया।

विकिलीक्स के लिए सबसे बुरा दौर तब रहा जब कई स्कैंडल में संस्थापक असांजे का नाम आया। समर्थकों द्वारा एक हीरो और आलोचकों द्वारा एक श्तिकड़मबाजश् करार दिए गए, सफेद बालों वाले ऑस्ट्रेलियाई असांजे ने 2012 से लंदन स्थित इक्वाडोर दूतावास में शरण ले रखी थी। उन पर स्वीडन में रेप के आरोप लगे थे।

2017 में स्वीडन ने उस पर लगे रेप के आरोप हटा लिए थे लेकिन फिर भी असांजे दूतावास में ही रहे। उन्हें डर था कि अमेरिका उन्हें वहां के गोपनीय दस्तावेजों का खुलासा करने के चलते प्रत्यर्पित कर लेगा।

 

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

%d bloggers like this:
 cheap jerseys