Jan Sandesh Online hindi news website

कुशीनगर में पहली बार किन्नर लड़ेगा लोकसभा का चुनाव

दिग्गजों को मात देने मैदान में उतरा किन्नर गुड्डी- जनपद के विभिन्न नगरों , गाँवों व चौक चौराहों पर अपने खास तरीके से गुड्डी मांग रहा लोगों से मत

पडरौना,कुशीनगर : जिले में काँग्रेस पार्टी को छोड़कर अभी तक भाजपा,गठबंधन अथवा अन्य पार्टियों ने भले ही अपने उम्मीदवार के नाम की घोषणा नहीं किया हो,पर किन्नर गुड्डी ने माननीय बनने के लिए लोकसभा चुनाव लड़ने का संकल्प लेने के साथ ही चुनाव मैदान में छलांग लगाते हुए क्षेत्र में भाग दौड़ तेज कर दिया है । किन्नर द्वारा अपने साथियों के साथ खास तरीके से लोगों से मत मांगने की क्षेत्र में चटखारे लेकर चर्चा हो रही है।
बताते चलें कि कुशीनगर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में इस वर्ष खड्डा,पडरौना,कुशीनगर,हाटा व रामकोला (अ0जा0) को मिलाकर मतदाताओं की कुल संख्या 1736750 है ।

इसमें पुरुषों की संख्या 945308 व महिलाओं की संख्या 791305 है । जबकि किन्नरों की संख्या 137 है । हलांकि इसमें खड्डा में 50,पडरौना में 17,कुशीनगर में 28,हाटा में 20 व रामकोला में 23 समेत कुल 137 किन्नर हैं । यह भी बता दें कि तमकुहीराज,फाजिलनगर तथा कसया के आंशिक क्षेत्र देवरिया लोकसभा में शामिल हैं । इसी क्रम में गुड्डी किन्नर अपने बिरादरी के 137 किन्नरों को लेकर ही चुनाव मैदान में ताल ठोक रहे हैं । जनपद के विभिन्न शहरों,गावों,चौक चौराहों आदि पर पहुंचकर बधाइयों के साथ ही वे लोगों से चुनाव के दौरान अपने पाले में मतदान करने की पुरजोर अपील कर रहे हैं । इस क्रम में कल उन्होंने एक वार्ता के दौरान कहा कि यदि वे कुशीनगर लोकसभा से चुनाव जीतते हैं तो यहां पर 5 केंद्रीय विश्वविद्यालयों की स्थापना कराएंगे ।

और पढ़ें
1 of 172

जबकि गन्ना किसानों की समस्याओं को देखते हुए नान एल्कोहलिक 5 शुगर फैक्ट्री व 2 कपड़ों की मीलों का स्थापना कराएंगे । इन कार्यों के हो जाने से जनपद के लाखों युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे । जिससे क्षेत्र की बेरोजगारी दूर होगी । तो गन्ना किसानों व गरीब मजदूरों की समस्याएं समाप्त हो जाएंगी । गुड्डी किन्नर ने यह भी कहा कि यदि वे चुनाव जीतते हैं तो पनियहवा से होते हुए बिहार व उत्तर प्रदेश की सीमा में संचालित पनियहवा- तमकुही तक रेल लाइन परियोजना को पूरा कराएंगे , तो पडरौना से कुशीनगर होते हुए देवरिया तक भी एक रेल लाइन का निर्माण कराएंगे । यही नहीं विकास के अधूरे कार्यो को पूरा कराते हुए जनपद के बंद चीनी मिलों को चलाने के लिए उनका पूरा प्रयास होगा । साथ ही कई दशकों से इस क्षेत्र के गन्ना किसानों का चीनी मिलों पर बकाया पैसा भी दिलवाने के लिए वे पुरजोर कोशिश करेंगे । उन्होंने कहा कि वे निर्दल ही चुनाव मैदान में जोर आ जाएंगे । उनको अपने किन्नर समाज द्वारा आशीर्वाद मिल गया है । क्षेत्र की मालकिन राजकुमारी किन्नर ने उनको पूरी तरह सपोर्ट किया है । निश्चित रूप से उनको इस क्षेत्र में लोगों का आशीर्वाद मिलेगा । हालांकि गुड्डी किन्नर के इस फैसले से क्षेत्र को लोग चटखारे लेकर चर्चा कर रहे हैं । कुछ तो यह भी कह रहे हैं कि जब एक किन्नर गोरखपुर में विजय हासिल कर सकता है,तो यहां का किन्नर को क्यों नहीं लोग अपना मत देगें । फिलहाल गुड्डी के चुनाव मैदान में ताल ठोकने से चर्चाओं का बाजार गर्म है ।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed.