Jan Sandesh Online hindi news website

1 रन से हराकर मुंबई इंडियंस रेकॉर्ड चौथी बार चैंपियन

हैदराबाद। ओपनर रोहित शर्मा की कप्तानी वाली टीम मुंबई इंडियंस ने बेहद रोमांचक फाइनल में चेन्नै सुपर किंग्स को मात्र 1 रन से हराकर रेकॉर्ड चौथी बार आईपीएल चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया। मुंबई इंडियंस ने पहले बल्लेबाजी करते हुए यहां राजीव गांधी इंटरनैशनल क्रिकेट स्टेडियम में रविवार को इस खिताबी मुकाबले में 8 विकेट पर 149 रन बनाए। इसके बाद चेन्नै टीम शेन वॉटसन (80) की उम्दा पारी के बावजूद 7 विकेट पर 148 रन ही बना सकी।

150 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नै टीम के लिए शेन वॉटसन ने 59 गेंदों पर 8 चौके और 4 छक्के जड़े लेकिन वह टीम को जीत नहीं दिला सके। मैन ऑफ द मैच रहे मुंबई के पेसर जसप्रीत बुमराह ने 14 रन देकर 2 विकेट झटके। उनके अलावा क्रुणाल पंड्या, पेसर लसिथ मलिंगा और राहुल चहर को 1-1 विकेट मिला। मुंबई टीम ने 2017 के बाद खिताब अपने नाम किया। वह इससे पहले 2013 और 2015 में भी चैंपियन बनी थी।

और पढ़ें
1 of 60

वॉटसन एक छोर पर जमे रहे और उन्होंने 44 गेंदों पर चौके के साथ आईपीएल करियर का 19वां अर्धशतक पूरा किया। वह भाग्यशाली रहे और 3 बार उनके कैच मुंबई के खिलाड़ियों से छूटे। वॉटसन उन्होंने पिछले सीजन के फाइनल में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ 17 रन की नाबाद शतकीय पारी खेली थी।

शेन वॉटसन अंतिम ओवर की चौथी गेंद पर रन आउट हुए और मैच यहीं से पलट गया। शार्दुल ठाकुर को अंतिम गेंद पर आउट कर लसिथ मलिंगा ने मुंबई को जीत दिला दी। वॉटसन ने ड्वेन ब्रावो (15) के साथ पांचवें विकेट के लिए 51 रन की अर्धशतकीय साझेदारी की। ब्रावो को बुमराह की गेंद पर डि कॉक ने लपका।

इस महामुकाबले में मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी। पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई ने 8 विकेट खोकर 149 रन बनाए। सीएसके को चौथा आइपीएल खिताब जीतने के लिए 150 रन का लक्ष्य मिला, लेकिन ये टीम 20 ओवर में सात विकेट पर 148 रन बनाए। इस मैच में चेन्नई को जीत के लिए आखिरी गेंद पर दो रन बनाने थे लेकिन मलिंगा ने अंतिम गेंद पर शर्दुल ठाकुर को LBW आउट करके अपनी टीम को जीत दिला दी। इस मुकाबले के लिए जसप्रीत बुमराह को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया।

इस मैच के लिए चेन्नई की प्लेइंग इलेवन में कोई बदलाव नहीं किया जबकि मुंबई की टीम ने अपने अंतिम ग्यारह में एक बदलाव किया। जयंत यादव की जगह टीम में मिचेल मैक्लेघन को शामिल किया गया। चेन्नई ने धौनी की कप्तानी में वर्ष  2010, 2011 और 2018 में आइपीएल खिताब अपने नाम किया था जबकि रोहित की कप्तानी में मुंबई ने 2013, 2015 और 2017 में खिताब जीते थे और एक बार फिर से इस टीम ने खिताब जीता।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed.