Jan Sandesh Online hindi news website

ओमप्रकाश राजभर के बिगड़े बोल, BJP नेताओं को दी गाली, बोले- दस जूता मारो !

घोसी । यूपी सरकार में मंत्री ओमप्रकाश राजभर बीजेपी को लेकर दिए गए अपने बयान के कारण विवादों में आ गए हैं। उत्तर प्रदेश में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राजभर ने बीजेपी के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया है।

उनका यह विडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें वह बीजेपी नेताओं को गाली देते और जूतों से मारने की बात कहते हुए नजर आ रहे हैं। ओमप्रकाश राजभर का आरोप है कि बीजेपी नेता मतदाताओं में एसबीएसपी से गठबंधन को लेकर भ्रम फैला रहे हैं। राजभर घोसी लोकसभा क्षेत्र के रतनपुरा में जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

और पढ़ें
1 of 366

इस दौरान उन्होंने कहा कि अभी एक चर्चा बड़ी तेजी से भारतीय जनता पार्टी के लोग फैला रहे हैं कि हम लोगों का (बीजेपी-एसबीएसपी का) गठबंधन है और महेंद्र (चुनाव) नहीं लड़ रहे हैं। उन्होंने सभा में उपस्थित लोगों से सवाल पूछते हुए कहा कि यहां जितने लोग हैं बताओ कि महेंद्र चुनाव लड़ रहे हैं कि नहीं लड़ रहे हैं?

राजभर के इस सवाल का जवाब भीड़ लड़ रहे हैं कहकर देती है। विडियो में इसके बाद राजभर उग्र हो गए और कहा, अगर बीजेपी का नेता यह बोलते हुए मिल जाए तो जूता निकालकर उसको दस जूता मारो कि तुम नहीं लड़ रहे हो…।

इस दौरान राजभर बीजेपी नेताओं के लिए गाली का इस्तेमाल कर रहे हैं। राजभर ने आगे कहा, गाली निकलती है जबान से। इन बेईमानों (बीजेपी नेताओं) को शर्म नहीं लगती है।

ओमप्रकाश राजभर का आरोप है कि बीजेपी नेता यह कहकर प्रचार कर रहे हैं कि एसबीएसपी और बीजेपी का गठबंधन है और राजभर की पार्टी का प्रत्याशी चुनाव नहीं लड़ रहा है।

बता दें कि हाल ही में राजभर ने प्रदेश सरकार में मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था, जिसे अभी तक स्वीकार नहीं किया गया है। उनकी पार्टी ने भी प्रदेश में बीजेपी के साथ गठबंधन तोड़ लिया है।

suheldev samaj party chief om prakash rajbhar asks supporters to beat up bjp leaders with shoes

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed.