Jan Sandesh Online hindi news website

यूपी डीजीपी ने कहा- 12 घंटे के अंदर कर दिया जाएगा हत्या का खुलासा।

रिपोर्ट:सैय्यद मकसूदुल हसन

अमेठी।।ओपी सिंह ने कहा कि हमें कुछ महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं जिनके आधार पर जांच की जा रही है. रंजिश की बात भी सामने आई हैं. इसके लिए पुलिस की तीन टीमें लगाई गई हैं जो अलग-अलग जगह पर दबिश दे रही हैं।। अमेठी में बीजेपी कार्यकर्ता सुरेंद्र सिंह हत्याकांड को लेकर यूपी पुलिस के डीजीपी ओपी सिंह ने दावा किया है कि 12 घंटे के अंदर हत्या का खुलासा कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि हमें कुछ पुराने विवाद का पता चला है. हमें कुछ महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं जिनके आधार पर जांच की जा रही है. रंजिश की बात भी सामने आई हैं. ओपी सिंह ने कहा कि इसके लिए पुलिस की तीन टीमें लगाई गई हैं जो अलग-अलग जगह पर दबिश दे रही हैं. इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस की भी मदद ली जा रही है।इस मामले पर यूपी के डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने दुख जताते हुए कहा कि मुझे अपने कार्यकर्ता की मौत से बहुत दुख हुआ है. हत्यारा जो भी है उसे छोड़ा नहीं जाएगा. वहीं कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने योगी सरकार की कानून व्यवस्था पर हमला करते हुए कहा कि जब बीजेपी सरकार अपने कार्यकर्ता की रक्षा नहीं कर पा रही तो आम जनता की कैसे करेगी।जानकारी के मुताबिक सुरेंद्र सिंह स्मृति ईरानी की जीत का जश्न मनाकर घर लौटे थे. तभी कुछ अज्ञात बदमाश उनके घर पहुंचे और उन्हें गोली मार दी. आनन-फानन में परिजन सुरेंद्र सिंह को ट्रामा सेंटर लखनऊ ले गए जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.सुरेंद्र सिंह की हत्या पर बीजेपी के अमेठी लोक सभा के संयोजक राजेश अग्रहरि ने कहा कि कांग्रेस की हताशा और घटना के हालात को देखते हुए मामले की उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए.राजेश ने कहा कि चुनाव के बाद से कांग्रेस में हताशा है इसलिए घटना की गहन जांच हो और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाए।पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने कहा कि इस घटना के राजनीतिक हत्या होने से इंकार नहीं किया जा सकता. सभी पहलू पर जांच हो रही है. सिंह पूर्व प्रधान रहे हैं लिहाजा यह पुरानी रंजिश का मामला भी हो सकता है.लोकसभा चुनाव के दौरान जूता वितरण प्रकरण में सुरेंद्र सिंह काफी चर्चा में रहे थे. उन्हें स्मृति ईरानी का करीबी माना जाता था.कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने स्मृति ईरानी पर बरौलिया गांव के लोगों को जूते बांटने का आरोप लगाते हुए इसे अमेठी के लोगों का अपमान बताया था. बरौलिया गांव को पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत गोद लिया था.

और पढ़ें
1 of 273
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed.