Jan Sandesh Online hindi news website

पीलीभीत कलीनगर क्षेत्र में एसडीएम ने की बाढ़ से बचाव के कार्यों की समीक्षा

पीलीभीत तहसील कलीनगर क्षेत्र के नोजलिया  न 2 में  प्रवेश करने के बाद बरसात के दिनों में शारदा नदी हर वर्ष कई ग्रामों में भारी तबाही मचाती है बाढ़ से नदी किनारे आबाद गांव के लोगो की सुरक्षा एवं बाढ़ में फंसे लोगों तक सहायता पहुंचाने के लिए प्रशासन ने तैयारियां शुरू कर दी हैं एसडीएम की अध्यक्षता में हुई बैठक में तैयारियो की समीक्षा की तथा आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
जनपद पीलीभीत में  शारदा नदी  जगबुढा नदी के साथ मिलकर कलीनगर तहसील के नोजलिया नंबर दो(कुतिया कवर) में बॉर्डर पिलर 23 -24 के बीच  आगे बढ़ते हुए हर साल अपने कहर की निशानियां छोड़ जाती है। कलीनगर तहसील क्षेत्र की 7 ग्राम सभा के करीब दर्जनभर से अधिक गांव की 38 396 आबादी नदी की बाढ़ से प्रभावित होती है तथा 5000 हेक्टेयर भूमि बाढ़ का पानी भरने से जल मग्न हो जाती है l

जिससे फसलों को काफी नुकसान होता है हर वर्ष बाढ़ आने से पूर्व प्रशासन नदी से सटे गांव के लोगों के लिए बाढ़ चौकियां कायम करती है। एसडीएम कलीनगर जेबी यादव ने बताया कि इस वर्ष तहसील क्षेत्र में नदी की बाढ़ से निपटने के लिए 4 बाढ़ चौकियां खोली गई है इन बाढ़ चौकियों पर राजस्व, स्वास्थ्य विभाग ,पशुपालन विभाग एवं अन्य विभागीय अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गयी है। नदी की बाढ़ में फंसे लोगों को सहायता पहुंचाने के लिए नावो को ठीक कराया गया है तथा खाद्यान्न एवं केरोसीन क्षेत्र के कोटेदारों को सुरक्षित रखने के निर्देश दिए गए हैं। बैठक में स्वास्थ्य विभाग पशुपालन विभाग पूर्ति विभाग सहित कुछ ग्राम प्रधान भी बैठक में मौजूद रहे।

और पढ़ें
1 of 78
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.