Jan Sandesh Online hindi news website

अमरनाथ यात्रा के सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम, तैनात होंगी 350 से ज्यादा अर्द्धसैनिक बलों की कंपनियां

अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमले का खतरा

नई दिल्ली । कश्मीर में आतंकी घटनाओं के बढ़ने से एक बार फिर शांतिपूर्ण अमरनाथ यात्रा की चुनौती सामने है। हालांकि अभी तक आधिकारिक तौर पर यात्रा पर कोई खतरा नहीं माना जा रहा है लेकिन सुरक्षा बलों का कहना है कि अगर सुरक्षा में जरा सी ढील दी गई तो अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमले हो सकते हैं। सरकार ने सुरक्षा बलों को श्रद्धालुओं की सुरक्षा करने के लिए जरुरी कदम उठाने के भी निर्देश दिए हैं। सरकार ने कहा कि सुरक्षा में किसी भी तरह की ढील ना बरती जाए।

सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्रालय ने अमरनाथ यात्रा को ज्यादा हाईटेक करने के लिए 55 करोड़ रुपये अतिरिक्त जारी किए हैं। अमरनाथ यात्रा एक जुलाई से शुरू हो रही है। इसके मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं और सुरक्षा बल कश्मीर में आतंकियों का लगातार सफाया कर रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक आतंकी अमरनाथ यात्रा के दौरान फिदायीन हमले कर सकते हैं। सूत्रों का कहना है कि आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा की बजाय छोटे-छोटे पाकिस्तान परस्त आतंकी संगठन जैसे अल बद्र और अल उमर मुजाहिदीन सुरक्षा एजेंसियों को चकमा देकर अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा में लगे सुरक्षा बलों को निशाना बना सकते हैं।

और पढ़ें
1 of 715

इस खतरे को भांपते हुए सुरक्षा बलों और गृह मंत्रालय ने इस साल अमरनाथ यात्रा के दौरान सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। सुरक्षा महकमे से जो जानकारी मिली है, उसके अनुसार इस बार की अमरनाथ यात्रा में 350 से ज्यादा अर्द्धसैनिक बलों की कंपनियां सुरक्षा में तैनात की जाएंगी। अमरनाथ यात्रा को लेकर गृह मंत्रालय और सुरक्षा बलों ने बड़ी तैयारी की है। दरअसल पुलवामा हमले के बाद सुरक्षा बलों ने कई तरीके के स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग सिस्टम (एसओपी) को बदला है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.