Jan Sandesh Online hindi news website

UPPSC की तरफ से परिक्षा के घोषित पी सी एस के परिणाम मे भष्टाचार का अरोप

ब्यूरो चीफ राकेश कुमार केसरवानी

जनपद प्रयागराज उ, प्र लोकसेवा आयोग (UPPSC) की ओर से गुरुवार को घोषित किए गए पीसीएस जे मुख्य परीक्षा 2018 परिणाम पर अभ्यर्थी असंतोष व्यक्त कर रहे हैं। अभ्यर्थियों ने परीक्षा में अनियमितता का आरोप लगाते हुए उसे दोबारा कराने की मांग की है। इसके विरोध में अभ्यर्थियों ने 17 जून को आयोग के सामने प्रदर्शन करने का निर्णय लिया है।आरोप है कि पीसीएस जे परिणाम में आयोग ने काफी हेरा फेरी किया है। इसमें वह अभ्यर्थी असफल हुए हैं जो दूसरी महत्वपूर्ण परीक्षाओं में सफल थे।

अभ्यर्थियों का आरोप है कि अनेक ऐसे छात्र-छात्राएं हैं जो दूसरे राज्यों में हुई प्रतियोगी परीक्षाओं के साक्षात्कार के लिए चुने गए, लेकिन वहां पहले ही उन्हें असफल कर दिया गया। वाराणसी, लखनऊ और प्रयागराज में हुई पिछली परीक्षाओं में साक्षात्कार देने वाले सभी प्रतियोगी इस परीक्षा में बाहर कर दिए गए थे। यही नहीं, अन्य राज्यों में चयनित और ए पी ओ में कार्यरत अभ्यर्थी भी इससे बाहर कर दिए गए।जूनियर इंजीनियर (सिविल, मैकेनिकल, एग्रीकल्चर) का परिणाम न जारी होने पर अभ्यर्थियों में असंतोष व्याप्त है।

परीक्षा परिणाम जल्द जारी कराने की मांग को लेकर अभ्यर्थी 20 जून को उ प्र लोकसेवा आयोग के गेट नंबर दो पर प्रदर्शन करेंगे। अभ्यर्थियों का कहना है कि अगर उनकी मांगों के अनुरूप जल्द ठोस कदम न उठाया गया तो वह आमरण अनशन शुरू कर देंगे।

और पढ़ें
1 of 77
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.