Jan Sandesh Online hindi news website

आईसीसी वर्ल्ड कप में Ind vs Pak मैच पर लगा 3 हजार करोड़ का सट्टा

नई दिल्ली। भारत और पाकिस्तान की टीमें रविवार को मैनचेस्टर के ओल्ड टेफर्ड मैदान पर होने वाले विश्व कप मुकाबले में आमने-सामने होंगी। यह विश्व कप का सबसे अहम मुकाबला साबित हो रहा है क्योंकि भारत और पाकिस्तान की टीमों के बीच क्रिकेट मे जबरदस्त प्रतिस्पर्धा रही है।

आईसीसी वर्ल्ड कप में कल यानि रविवार को भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाले मैच लेकर क्रिकेट प्रशंसकों में काफी खुशी का माहौल देखने को मिल रहा हैं। वहीं, बहुचर्चित मैच को लेकर सट्टा बाजार में भारी हलचल देखी जा रही है। सिर्फ इस मैच में अब तक 2 हजार करोड़ का सट्टा लग चुका है । जो मैच के दिन 3 हजार करोड़ तक जा सकता है। वहीं पूरे विश्व कप पर 1 लाख करोड़ से ज्यादा सट्टा लगने का अनुमान है।

और पढ़ें
1 of 60

यही नही इस बार बरसात की वजह से मैच होगा या नही इसपर भी करोड़ों रुपये लगाए जा रहे हैं. ये सट्टा भारत की जीत हार से लेकर, टॉस कौन जीतेगा, पहले कौन सी टीम बल्लेबाजी करेगी और कितने रन बनेंगे इन सभी पर लग रहा है. सट्टा बाजार के मुताबिक भारत की टीम हॉट फेबरेट है। जिस टीम का भाव कम है इसका मतलब उसके जीतने की उम्मीद सबसे ज्यादा है।

सटोरियों के मुताबिक जो टीम पहले बल्लेबाजी करेगी उसे कम से कम 330 रन तो बनाने होंगे तभी जीत तय है.वहीं इस बार सट्टा बाजार में बरसात की वजह से मैच होगा या नही और अगर होगा तो कितने ओवर का हो सकता है इसपर भी भाव खोला गया है।वजह है इस विश्वकप में कई मैचों के बरसात के चलते ना हो पाना।

वहीं दूसरी तरह सट्टा बाजार में विश्वकप जीतने की सबसे प्रबल दावेदार मेजबान इंग्लैंड है और दूसरे नंबर पर भारत है। इसके लिए भी करोड़ों का सट्टा लगाया जा रहा है. जबकि फेबरेट प्लेयर, सबसे ज्यादा रन, विकेट और अन्य चीजों पर फेंसी सट्टा मैच के कुछ घंटे पहले खोला जाएगा। यानी इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, भारत और न्यूज़ीलैंड के सेमी फाईनल तक जाने की उम्मीद सट्टा बाजार को है।

पूरे विश्वकप के कुल 45 मैच पर 90,000 करोड़ का सट्टा लगने का अनुमान है तो वहीं दो सेमीफाइनल और एक फाईनल पर 20,000 करोड़. इस तरह पूरे विश्व कप पर 1.10 लाख करोड़ तक की रकम दांव पर लगने की उम्मीद है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.