Jan Sandesh Online hindi news website

भारत ने अपना अजेय रेकॉर्ड कायम रखा, पाकिस्तान को 89 रनों से दी करारी शिकस्त

भारत के लिए रोहित शर्मा ने 140 रन की शतकीय पारी खेली

मैनचेस्टर । सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के एक और लाजवाब शतक से बड़ा स्कोर बनाने वाले भारत ने रविवार को यहां पाकिस्तान को डकवर्थ लुईस पद्वति से 89 रन से करारी शिकस्त देकर विश्व कप में अपने इस चिर प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ विजय अभियान 7-0 पर पहुंचा दिया। भारत ने विश्व कप में अब तक हमेशा पाकिस्तान को शिकस्त दी है और विराट कोहली की टीम ने भी यह क्रम जारी रखा। भारत ने पांच विकेट पर 336 रन बनाए जिसके जवाब में पाकिस्तान ने जब 35 ओवर में छह विकेट पर 166 रन बनाए थे तभी बारिश आ गई।

बाद में खेल शुरू होने पर पाकिस्तान को 40 ओवर में 302 रन यानि बाकी बचे पांच ओवर में 136 रन का लक्ष्य मिला। पाकिस्तानी टीम छह विकेट पर 212 रन ही बना पाई। रोहित और केएल राहुल ने भारत को शानदार शुरुआत दिलाई और पहले विकेट के लिए 136 रन जोड़े।

और पढ़ें
1 of 60

रोहित ने 113 गेंदों पर 140 रन बनाए जिसमें 14 चौके और तीन छक्के शामिल हैं। राहुल ने 78 गेंदों पर 57 रन का योगदान दिया। कोहली ने 65 गेंदों पर सात चौकों की मदद से 77 रन की कप्तानी पारी खेली। उन्होंने रोहित के साथ 98 और हार्दिक पंड्या (19 गेंदों पर 26) के साथ 51 रन की साझेदारियां की। भारत ने पांच विकेट पर 336 रन बनाए। कोहली ने इस दौरान वनडे में सबसे कम पारियों में 11,000 रन पूरे करके सचिन तेंडुलकर के 17 साल पुराने रेकॉर्ड को तोड़ा।

पाकिस्तानी पारी के दौरान केवल बीच में एक दौर आया जब भारत थोड़ा परेशानी में दिखा। फखर जमां (75 गेंदों पर 62) और बाबर आजम (57 गेंदों पर 48) ने दूसरे विकेट के लिए 104 रन जोड़कर भारतीयों को थोड़ा दबाव में ला दिया था। भारतीय गेंदबाजों 12 रन के अंदर चार विकेट निकालकर शानदार वापसी की।

भारत के मुख्य तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार शुरू में ही चोटिल हो गए थे। ऐसे में विजय शंकर (22 रन देकर दो) और पंड्या (44 रन देकर दो) अपनी भूमिका अच्छी तरह से निभायी लेकिन वह कुलदीप यादव (32 रन देकर दो) थे जिन्होंने भारत को वापसी दिलाई। भारत ने विश्व कप 2019 में अपना अजेय अभियान जारी रखा। यह उसकी चार मैचों में तीसरी जीत से सात अंक हो गए हैं। पाकिस्तान की पांच मैचों में तीसरी हार है। उसके तीन अंक हैं जिससे उसके लिए आगे की राह कांटों भरी हो गई है।

भुवनेश्वर को पारी के पांचवें ओवर में ही मांसपेशियों में खिंचाव के कारण मैदान छोड़ना पड़ा। शंकर ओवर पूरा करने के लिए आए और पहली गेंद पर ही इमाम उल हक (सात) को पगबाधा आउट कर दिया। वह विश्व कप में अपनी पहली गेंद पर विकेट लेने वाले केवल तीसरे गेंदबाज हैं। फखर और बाबर ने यहां से जिम्मेदारी संभाली। यह साझेदारी भारत के लिये खतरा बन रही थी और ऐसे में कुलदीप ने बाबर के बल्ले और पैड से गेंद निकालकर गिल्लियां गिरा दी। उन्होंने अगले ओवर में फखर को भी पवेलियन भेजकर भारतीय दर्शकों को मदमस्त कर दिया।

अब पंड्या की बारी थी जिन्होंने लगातार दो गेंदों पर विकेट निकालकर पाकिस्तानी मध्यक्रम की कमर तोड़ दी। उन्होंने मोहम्मद हफीज (नौ) को डीप स्क्वेअर पर कैच करवाया और अगली गेंद पर शोएब मलिक (शून्य) को बोल्ड किया जिन्होंने उठती गेंद विकेटों पर खेली। पाकिस्तानी कप्तान सरफराज अहमद (12) ने भी ड्राइव करने के प्रयास में शंकर की गेंद विकेटों पर खेली।बारिश के बाद खेल शुरू हुआ तो इमाद वसीम (नाबाद 46) और शादाब खान (नाबाद 20) हार का अंतर ही कम कर पाए।

इससे पहले भारत को पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलना उसकी रणनीति के अनुकूल ही रहा। भारत ने चैंपियंस ट्रोफी से इतर शुरू से सकारात्मक रवैया अपनाया। रोहित ने अपने स्क्वायर कट, स्क्वायर ड्राइव, पुल, फ्लिक, स्वीप शॉट, अपर कट का जबर्दस्त नमूना पेश किया। उन्होंने शुरू में हसन अली को निशाना बनाया। मोहम्मद आमिर (47 रन देकर तीन) ने अनुशासित गेंदबाजी की। हसन अली (84 पर एक) और वहाब रियाज (71 पर एक) की शॉर्ट पिच गेंदों की रणनीति रोहित के सामने नहीं चल पाई। आमिर ने डेथ ओवरों में विकेट लिए। इससे भारत आखिरी पांच ओवरों में 38 रन ही बना पाया। इस बीच शंकर (नाबाद 15) संघर्ष करते हुए नजर आए।

रोहित ने स्पिनरों की भी नहीं चलने दी। सरफराज ने इस बीच 12वें ओवर तक पांच गेंदबाज आजमाकर अपनी हड़बड़ाहट जाहिर भी की। रोहित और राहुल ने 18वें ओवर में भारत की तरफ से पाकिस्तान के खिलाफ विश्व कप में पहले विकेट के लिये पहली शतकीय साझेदारी पूरी की। राहुल ने रोहित का अच्छा साथ दिया और पुल शॉट से पाकिस्तान की शार्ट पिच गेंदों की रणनीति नाकाम की। शोएब मलिक और मोहम्मद हफीज एक एक ओवर करने के लिए आए।

राहुल ने इन दोनों पर छक्के लगाए। लेकिन वहाब रियाज की गेंद पर वह अपने शॉट पर नियंत्रण नहीं रख पाये और कवर पर कैच दे बैठे। राहुल ने तीन चौके और दो छक्के लगाए। रोहित ने केवल 85 गेंदों पर अपना 24वां वनडे शतक पूरा किया जब उनके दोहरे शतक की संभावनाएं जतायी जा रही थी तब उन्होंने हसन अली की गेंद स्कूप करके शॉर्ट फाइन लेग पर कैच दे बैठे।

कोहली ने विकेटों के बीच दौड़ का भी जबर्दस्त नमूना पेश किया तथा 51 गेंदों पर अपना 51वां वनडे अर्धशतक पूरा किया। परिस्थिति को देखते हुए पंड्या फिर से चौथे नंबर पर उतरे। आमिर ने पंड्या और महेंद्र सिंह धोनी (एक) को लगातार ओवरों में आउट करके भारत की डेथ ओवरों की रणनीति गड़बड़ायी। बारिश के खलल के बाद खेल शुरू होने पर कोहली का विकेट भी उन्हें ही मिला। कोहली ने शॉर्ट पिच गेंद पर विकेट के पीछे कैच दिया। उन्होंने क्रीज छोड़ दी हालांकि रीप्ले से साफ हो गया था कि गेंद उनके बल्ले से नहीं लगी थी।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.