Jan Sandesh Online hindi news website

जानलेवा साबित हो सकता High Blood Pressure की दवा छोड़ना

आज की भागम-भाग़ भरी लाइफस्टाइल के चलते लोगों को तरह-तरह की बीमारियों का शिकार होना पड़ता है। जिनमें से एक है हाइपरटेंशन। यह लोगों में एक बहुत ही आम समस्या है। यह बिना किसी चेतावनी के होती है इसलिए इसे साइलंट किलर कहते हैं। अधिकतर लोगों को तो यह भी मालूम नहीं है कि उन्हें उच्च रक्तचाप की शिकायत है। आप इस बीमारी से जुड़े कुछ लक्षण और सावधानियां यहां देख सकते हैं।

Highpertension – Photo Credit- Social Media
और पढ़ें
1 of 67

2 हाइपरटेंशन कई कारणों से होता है, जिनमें से कुछ कारण शारीरिक और कुछ मानसिक होते हैं। हाइपरटेंशन में हार्ट, किडनी व शरीर के अन्य अंग काम करना बंद कर सकते हैं। इसके अलावा हाई बीपी के कारण आंखों पर भी असर पड़ता है। हाइपरटेंशन में रक्तचाप 140 के पार पहुंच जाता है। इसलिए इस बीमारी को गंभीरता से लिया जाना चाहिए।

Highpertension – Photo Credit- Social Media

3 हाइपरटेंशन की सबसे खतरनाक बात यह है कि इंसान को पता ही नहीं चल पाता कि उसे यह प्रॉब्लम है। एक-तिहाई लोग ऐसे हैं जिन्हें हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है और उन्हें पता भी नहीं होता।

Highpertension – Photo Credit- Social Media

4 कुछ लक्षण हैं जिनसे आप इस समस्या को पहचान सकते हैं जैसे- तेज सिरदर्द, थकान या कन्फ्यूजन, देखने में दिक्कत होना, छाती में दर्द, सांस लेने में दिक्कत, दिल कभी तेज कभी धीरे धड़कना, पेशाब में खून आना, सीने में हल्कापन महसूस होना, सिर चकराना, आंखें लाल होना। यह कुछ लक्षण हैं जिन्हें इग्नोर न करें।

Highpertension – Photo Credit- Social Media

5 कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना, मोटापा, आनुवांशिक, ज्यादा मांसाहार लेना, ज्यादा तैलीय भोजन करना, शराब पीना।

Highpertension – Photo Credit- Social Media

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

हाइपरटेंशन के लक्षण

-हाइपरटेंशन में चक्कर आना

-धमनियों में रक्त का दबाव बढ़ जाना।

-सिर दर्द की शिकायत शुरू होती है।

-ये सब हाइपरटेंशन के लक्षण हैं।

-इसके अलावा बेचैनी, थकान, अनिंद्रा, आक्रोश आना शुरू हो जाता है।

-हाइपरटेंशन के कारण व्यक्ति शारीरिक एवं मानसिक रूप से परेशान हो जाता है।

ऐसे कंट्रोल कर सकते हैं हाई ब्लड प्रेशर

  • अपनी हाइट के हिसाब से अपना सही वजन बनाए रखें।

  • रोजाना फिजिकल ऐक्टिविटी करें।

  • फल और हरी सब्जियां खाएं।

  • सोडियम का सेवन प्रति दिन 5 ग्राम से कम करें और फलों व सब्जियों से पोटेशियम प्राप्त करें।

  • स्ट्रेस को कम करने के लिए योग का सहारा लें।

  • अपने ब्लड प्रेशर को नियमित रूप से मॉनिटर करें और इसे कंट्रोल में रखने के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।

 

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.