Jan Sandesh Online hindi news website

रईसों का रेसिंग ट्रेक बना यमुना एक्सप्रेसवे, 200 की स्पीड से दौड़ा रहे लग्जरी गाड़ियां

भीषण कोहराग्रस्त क्षेत्र माने जाने वाले यमुना एक्सप्रेस वे पर नौ जनवरी 2019 की रात एक बीएमडब्ल्यू कार 203.09 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से एक्सप्रेस वे पर दौड़ाई गई थी। आगरा आरटीओ के मुताबिक घने कोहरे में कार की हेडलाइट भी बंद थीं।  इसी दौरान दो अन्य कारें 176 और 185 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से निकली थीं। 

रेसिंग ट्रेक बने यमुना एक्सप्रेस वे पर गुरुवार को फिर 196 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से मर्सिडीज कार दौड़ाई गई। सुबह 7.29 बजे एक्सप्रेस के 89.2 माइल स्टोन पर स्पीड लिमिट उल्लंघन कैमरे ने कार की ओवरस्पीडिंग दर्ज की। आगरा के खंदौली क्षेत्र में तूफानी रफ्तार से दौड़ी यह मर्सिडीज कार नोएडा आरटीओ में पंजीकृत है। कार मालिक के खिलाफ 2000 रुपये का ऑनलाइन चालान जारी कर दिया गया है।

मर्सिडीज दौड़ी 214 किमी की रफ्तार से  

और पढ़ें
1 of 366

इससे पहले सोमवार को यमुना एक्सप्रेस वे के माइल स्टोन 108 (मथुरा जनपद की सीमा) पर स्पीड लिमिट उल्लंघन को कैमरे ने सुबह 2.24 बजे दर्ज किया था। तब पुडुचेरी में पंजीकृत एक मर्सिडीज कार यहां 214.40 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से दौड़ाई गई थी। 165 किलोमीटर लंबे यमुना एक्सप्रेस वे पर यह अब तक की सबसे तेज रफ्तार बताई गई थी। इसी दिन लखनऊ में रजिस्टर्ड मारुति सियाज हाइब्रिड भी 166.90 की स्पीड से चलाई गई थी। वहीं जुलाई में लखनऊ नंबर की कार का 165 किमी की रफ्तार पर ऑनलाइन चालान हुआ था। मगर पड़ताल में पता चला था कि कार लखनऊ गैराज में थी। यहां कोई और उस नंबर की प्लेट लगाकर कार दौड़ा रहा था।

बीएमडब्ल्यू की कोहरे में थी 203 रफ्तार 

भीषण कोहराग्रस्त क्षेत्र माने जाने वाले यमुना एक्सप्रेस वे पर नौ जनवरी 2019 की रात एक बीएमडब्ल्यू कार 203.09 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से एक्सप्रेस वे पर दौड़ाई गई थी। आगरा आरटीओ के मुताबिक घने कोहरे में कार की हेडलाइट भी बंद थीं।  इसी दौरान दो अन्य कारें 176 और 185 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से निकली थीं।

ओवर स्पीड पर रोज 70 चालान 

यमुना एक्सप्रेस वे और लखनऊ एक्सप्रेस वे की आगरा सीमा में प्रतिदिन ओवर स्पीड पर चालान किए जा रहे हैं। आरटीओ के मुताबिक, रोजाना करीब 60-70 चालान हो रहे हैं। यमुना एक्सप्रेस वे पर चालान ज्यादा होते हैं।

 

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.