Jan Sandesh Online hindi news website

बकरीद पर बदली रहेगी लखनऊ की यातायात व्यवस्था

कमलेश कुमार चौधरी की रिपोर्ट

लखनऊ । बकरीद के पर्व पर पुराने लखनऊ की यातायात व्यवस्था बदली रहेगी। यह डायवर्जन व्यवस्था चंद्र दर्शन के अनुसार बकरीद के त्योहार पर सोमवार सुबह छह बजे से नमाज की समाप्ति तक प्रभावी रहेगी। इस दौरान वाहन चालकों को वैकल्पिक मार्गों का प्रयोग करना होगा। यह जानकारी एएसपी ट्रैफिक पूर्णेंदु सिंह ने दी।

इधर नहीं जा सकेंगे 

  • सीतापुर रोड से आने वाले वाहन पक्का पुल की ओर।
  • पक्का पुल खदरा साईड तिराहा से वाहन पक्का को।
  • हरदोई रोड, बालागंज चुंगी से आने वाहन बड़े इमामबाड़े व टीले वाली मस्जिद की ओर।
  • कोनेश्वर चौराहे से घंटाघर को नहीं जा सकेंगे।
  • घंटाघर तिराहा, चौक व नीबू पार्क तिराहा से वाहन बड़ा इमामबाड़ा एवं टीले वाली मस्जिद को जाने वाले वाहनों को नीबू पार्क के पीछे से मोड़ दिया जाएगा।
  • चौक तिराहे से वाहन नीबू पार्क तिराहे को।
  • मेडिकल क्रास चौराहे से वाहन खुनखुनजी गल्र्स कॉलेज के रास्ते नीबू पार्क को।
  • शाहमीना तिराहे सै पक्का पुल की ओर ।
  • डालीगंज पुल, सीतापुर रोड से आने वाली सटी बस पक्का पुल को।
  • शाहमीना तिराहा, कैसरबाग और हरदोई रोड को जाने वाली रोडवेज सिटी बस पक्का पुल।
  • एवरेडी तिराहे से मिल एरिया की ओर बड़े, कर्मिशयल वाहन नहीं जा सकेंगे।
  • रकाबगंज पुल से नक्खास, यहियागंज की ओर।
  • ऐशबाग पुल के नीचे से आने वाले वाहन ऐशबाग चौकी के रास्ते ऐशबाग को।
  • राजेन्द्र नगर चौराहे से वाहन ऐशबाग ओवर के रास्ते ईदगाह को।
  • बाबू लाल हलवाई व मास्टर कन्हैया लाल रोड से ईदगाह को।

इधर जा सकेंगे 

  • डालीगंज रेलवे क्रासिंग, पुरनियां से बायें कपूरथला चौराहा एवं चौराहा नम्बर आठ से आईटी चौराहा के रास्ते।
  • बंधा पुल के नीचे से जा सकेंगे।
  • कोनेश्वर चौराहे से दाहिने चौक चौराहा, मेडिकल कालेज चौराहा होकर जा सकेंगे।
  • कोनेश्वर चौराहे से चौक, मेडिकल क्रास, हरदोई रोड के रास्ते।
  • मेडिकल क्रास होकर जा सकेंगे।
  • मेडिकल कॉलेज चौराहा, चौक, कोनेश्वर चौराहा के रास्ते।
  • मेडिकल कॉलेज डालीगंज पुल, आईटी होकर।
  • आईटी, कपूरथला, डालीगंज रेलवे क्रासिंग के रास्ते।
  • शाहमीना तिराहे से बायें मेडिकल कालेज, चौक, कोनेश्वर चौराहा के रास्ते।
  • मवैया ओवर ब्रिज, काटन मिल, राजाजीपुरम के रास्ते।
  • मेडिकल कॉलेज होकर जा सकेंगे।
  • पुल के नीचे से मोतीनगर की ओर डायवर्ट कर दिया जायेगा।
  • मोतीनगर होकर अपने गंतव्य को जा सकेंगे।
  • बाबू लाल हलवाई चौराहा से दाहिने व बायें से।

यहां तक जा सकेंगे नमाजियों के वाहन

  • मिल एरिया से बुलाकी अड्डा और तुलसीदास मार्ग तक।
  • बुलाकी अड्डा तिराहे से लालमाधव।
  • नाका से ऐशबाग।
  • यहियागंज से ईदगाह।
  • यहियागंज वाटर बक्स रोड से ऐशबाग ईदगाह की ओर।

यह मार्ग रहेगा पूर्णत: प्रतिबंधित

  • गूंगा, बहरा व रस्तोगी इंटर कालेज की ओर से ऐशबाग ईदगाह।
  • पीली कॉलोनी के अंदर से ऐशबाग ईदगाह को।
  • एसएन मिश्रा आवास तिराहे से ऐशबाग ईदगाह की ओर।
  • मोतीझील कॉलोनी से ऐशबाग ईदगाह की ओर।
  • अंजुमन चौराहा से ऐशबाग ईदगाह की ओर।

जरूरत पडऩे पर प्रतिबंधित मार्ग से जा सकेंगे इमरजेंसी वाहन 

एएसपी ट्रैफिक ने बताया कि अगर वैकल्पिक मार्गों पर यातायात का दबाव है तो इमरजेंसी वाहन एंबुलेंस, स्कूली वाहन, दमकल और शव वाहन को प्रतिबंधित मार्ग से भी निकाला जाएगा। इसके लिए संबंधित व्यक्ति को ट्रैफिक कंट्रोल रूम के नंबर   0522 2483800, 7311190159, 9454405155 पर सूचना देनी पड़ेगी। उसे तत्काल मदद दी जाएगी।

कुर्बानी से पहले और बाद में अलग अलग व्यवस्थाएं

बकरीद पर नगर निगम राजधानी में खास साफ-सफाई का इंतजाम करवाएगा। कुर्बानी से पहले और कुर्बानी के बाद अलग अलग व्यवस्थाएं की जाएंगी। यही नहीं बकरीद के मौके पर सोमवार को सुबह से ही निर्बाध जलापूर्ति की जिम्मेदारी जलकल विभाग को दी गई है।

नगर आयुक्त डॉ. इंद्रमणि त्रिपाठी ने बताया कि नमाज के प्रमुख केंद्रों के आसपास इस दौरान बेसहारा पशुओं को सड़क पर नहीं आने दिया जाएगा। सभी जगह पानी और चूने का छिड़काव होगा। कुर्बानी के बाद अपशिष्ट निस्तारण के लिए भी सख्त निर्देश दिए गए हैं। अपशिष्ट निस्तारण के लिए व्यवस्था तीन दिन तक बनी रहेगी। पानी की निर्बाध आपूर्ति के साथ ही टैंकरों को भी वैकल्पिक तौर पर फुल रखा जाएगा।

इन अधिकारियों पर प्रमुख जिम्मेदारी

  • बेसहारा पशु-अरविंद राव 68389300006
  • नालियों की सफाई -नगर स्वास्थ्य अधिकारी 6391206355
  • जलापूर्ति-जीएम जलकल  8795832560

ड्रोन से होगी औघड़नाथ मंदिर और ईदगाह की सुरक्षा 

मेरठ एक साथ सावन का आखिर सोमवार और बकरीद होने की वजह से पुलिस ने शहरभर में फोर्स बढ़ा दी है। चार ड्रोन से औघड़नाथ मंदिर और ईदगाह की सुरक्षा परखी जाएगी। साथ ही तीन कंपनी पीएसी और एक कंपनी आरएएफ को भी लगाया गया है। सभी की ड्यूटी फिक्स कर दी गई। हिदायत दी गई है कि इसबार ड्यूटी से नदारद रहने वाले पुलिसकर्मियों की प्रारंभिक जांच कराई जाएगी।
शहर को बांटा गया 14 सेक्‍टर में 
एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह ने बताया कि सोमवार को औघड़नाथ मंदिर और ईदगाह पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई। दोनों स्थानों पर दो ड्रोन लगाकर निगरानी की जाएगी। उसके अलावा शहर में चौदह सेक्टर में बांट दिया है। प्रत्येक सेक्टर की कमान थाना प्रभारी को दी गई है। पांच जोन बनाए है, जिनमें सीओ की ड्यूटी लगाई है। एसपी सिटी और एडीएम सिटी शहरभर में घूमकर पूरे मामले की देख रेख करेंगे।
रिजर्व रखा गया पुलिस बल 
उसके अलावा पुलिस लाइन में रिजर्व पुलिस बल भी रखा गया है। ताकि घटना की सूचना होने पर तत्काल फोर्स को बुलाया जा सकें। प्रत्येक सीओ को भी अतिरिक्त पुलिस बल दिया है। मामला दो संप्रदाय से जुड़ा होने की वजह से शहर में 22 अतिसंवेदनशील प्वाइंट बनाए गए है, जहां पर आरएएफ और पीएसी लगाई है। रविवार को विभिन्न स्थानों पर फ्लैगमार्च कराया जाएगा।
ऐसे होगी सुरक्षा व्यवस्था 
पांच सीओ 05
थाना प्रभारी 14
उपनिरीक्षक 135
हेड कांस्टेबल 422
महिला कांस्टेबल 110
रिक्रूट 400
पीएसी 3 कंपनी
आरएएफ एक कंपनी
डॉग स्क्वाड एक टीम
कंट्रोल में बैठ सीसीटीवी से भी होगी निगरानी 
दोनों त्योहारों पर सुरक्षा के मद्देनजर कंट्रोल रूम से निगरानी की जाएगी। उसके लिए तीन शिफ्ट में छह-छह पुलिसकर्मी लगाए गए है, जो पूरे घटनाक्रम की निगरानी करेंगे। एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि सुरक्षा को लेकर बंदोबस्त कर दिए है। सुबह छह बजे से ड्यूटी खड़ी कर दी जाएगी।

और पढ़ें
1 of 597
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

%d bloggers like this: