Jan Sandesh Online hindi news website

कहीं अस्मत तो कहीं वाहन लूटे : जानिए सप्ताह की प्रमुख आपराधिक मामले

अंजू अग्रवाल की रिपोर्ट 

उत्तर प्रदेश की प्रमुख औद्योगिक नगरी में पीडि़ता की बात अनसुनी करने के मामले में प्रदेेश सरकार बेहद सख्त है। कानपुर में पुलिस की निष्क्रियता और पड़ोसियों के तानों से परेशान होकर सामूहिक दुष्कर्म पीडि़ता के आत्महत्या करने के मामले में चार पुलिस कर्मियों को निलम्बित कर दिया गया है।

और पढ़ें
1 of 64

एसएसपी ने रायपुरवा थाना प्रभारी सत्यदेव शर्मा, चौकी प्रभारी उमेश कुमार, हेड कांस्टेबिल उर्मेद सिंह और कांस्टेबिल संजीव गौतम को लापरवाही के मामले में निलंबित कर दिया। इसके साथ ही पीडि़ता को ताना देने के आरोप में दो महिलाओं को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। वहीं दुष्कर्म के आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए चार टीमें बनाई गई हैं।

रायपुरवा के कोपरगंज निवासी 13 वर्षीय किशोरी एक स्कूल में कक्षा छह की छात्रा थी। आरोप है कि इलाके के तीन युवकों वासिफ, वसाफ और श्यामू ने 13 जुलाई को अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म किया था और विरोध पर जान से मारने की धमकी दी थी। अगले दिन पीडि़ता थाने पहुंची लेकिन पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की। उच्चाधिकारियों से गुहार लगाने के बाद 27 जुलाई को रिपोर्ट तो लिखी लेकिन किसी भी आरोपित को गिरफ्तार नहीं किया गया। पीडि़ता ने फिर अधिकारियों से गुहार लगाई तो मेडिकल कराकर कोर्ट में बयान कराए, लेकिन आरोपितों को फिर भी नहीं पकड़ा। इसी वजह से आसपास की महिलाएं ताने दे रही थीं।

शुक्रवार को पीडि़ता ने पुलिस की इसी लापरवाही से परेशान होकर फांसी लगा ली थी। बाद में परिवारीजन ने जमकर हंगामा किया। ताना मारने वाली दो महिलाओं व एक युवक के खिलाफ आत्महत्या दुष्प्रेरण की रिपोर्ट लिखाई। इसके बाद पुलिस ने दोनों महिलाओं नीलोफर, सुंबा को जेल भेज दिया। उच्चाधिकारियों के आदेश पर एसएसपी ने थानेदार, चौकी प्रभारी व दो सिपाहियों को निलंबित कर दिया।

एसएसपी अनंत देव ने बताया कि आरोपितों की धरपकड़ के लिए सर्विलांस समेत चार टीमें लगाई गई हैं। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

युवती को अकेला देख घर में घुसा शोहदा

राजधानी में लड़कियां बाहर ही नहीं बल्कि घर में भी सुरक्षित नहीं रही। ऐसे ही दो मामले शुक्रवार को राजधानी में सामने आए। जिसमें घर में घुसकर शोहदे ने युवती के साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी। पुलिस की धमकी देने पर वो मारपीट करके निकल गया और नंबर बदल बदलकर युवती को परेशान कर रहा है। वहीं दूसरे मामले में एक नशेबाज आदमी पर एक लड़की ने छेड़छाड़ और गाली गलौच का आरोप लगाया है।

यह है मामला 

खदरा निवासी एक युवती बुधवार शाम घर पर अकेली थी। इसीबीच एक युवक घर में घुस आया। युवती के विरोध और पुलिस से शिकायत करने की बात कहने पर पिटाई करने लगा। युवती के मुताबिक चीखपुकार सुनकर युवक धमकी देते हुए भाग निकला। उसके बाद से मोबाइल पर अलग-अलग नंबर से फोन कर अश्लील बातें और जान से मारने की धमकी दे रहा है। थाना पुलिस के मुताबिक आरोपित का मोबाइल नंबर के आधार पर पता लगाया जा रहा है।

नशेबाज पिता कर रहा अभद्रता, बेटी दे रही फंसाने की धमकी

हुसैनाबाद के पीर बुखारा निवासी एक महिला के घर में पड़ोस में रहने वाला नशेबाज आए दिन घुस कर गालीगलौज और अश्लीलता कर रहा है। विरोध पर उसकी बेटी पूरे परिवार को फंसाने की धमकी दे रही है। पीडि़ता ने थाने में दिलीप कश्यप और उसकी बेटी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पीडि़ता के मुताबिक नशेबाज पिता को समझाने की जगह उसकी बेटी भी गालीगलौज करती और कुछ कर लेने की धमकी देती। पुलिस के मुताबिक नशेबाजी के विरोध को लेकर विवाद है। मुकदमा दर्ज कर आरोपित के खिलाफ विधिक कार्रवाई की जा रही है।

रायबरेली एक्सीडेंट कांड के आरोपित चालक और क्लीनर का होगा नार्को टेस्ट

रायबरेली एक्सीडेंट कांड के आरोपित ट्रक चालक आशीष कुमार और क्लीनर मोहन श्रीवास का नार्को टेस्ट कराया जाएगा। दोनों आरोपितों की ब्रेन मैपिंग कराने के साथ ही फिंगर प्रिंट भी लिए जाएंगे।

शुक्रवार को मामले की सुनवाई के दौरान सीबीआई के डिप्टी एसपी विवेचक राम सिंह की अर्जी पर यह आदेश सीबीआई कोर्ट के प्रभारी विशेष न्यायिक मजिस्ट्रेट सुब्रत पाठक ने आदेश दिया है। इसके साथ ही कोर्ट ने आरोपित चालक और क्लीनर की पुलिस रिमांड 14 अगस्त तक बढ़ा दी है। सुनवाई के दौरान दोनों आरोपित न्यायलय में मौजूद थे।

रायबरेली में हुई दुर्घटना के बाद उन्नाव के माखी का बहुचर्चित दुष्कर्म कांड एक बार फिर सुर्खियों में आ गया है। जेल में बंद दुष्कर्म के आरोपित भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर फिर गंभीर आरोप लग रहे हैं। यूपी पुलिस भी रायबरेली में हुए हादसे की तह तक पहुंचने के लिए एफएसएल (फोरेंसिक साइंस लैब) के विशेषज्ञों की मदद ले रही है। दुष्कर्म पीड़िता के राबयरेली में सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल होने के बाद एक बार फिर सूबे की सियासत गरमा गई है। विपक्षी दल लगातार सरकार और भाजपा पर हमलावर रहे।

पांच रुपये के भुट्टे की खातिर

मऊ से खबर है किकोपागंज थाना क्षेत्र में कस्बे के बापू इंटर कालेज के पास भुट्टा बेच रहे एक युवक की आंख में दूसरे युवक ने लोहे की गरम सलाख घुसेड़ दी। इससे उसकी बांईं आंख बाहर आ गई। घटना मोलभाव के विवाद में पांच रुपये को लेकर हुई। इस घटना को देख आसपास भुट्टा व ठेले वालों में अफरा-तफरी मच गई। वे वहां से भागने लगे। इधर घायल को आसपास के लोग स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले आए। जहां हालत गंभीर देख जिला अस्पताल रेफर किया गया। जिला अस्पताल में भी स्थिति सुधरती नहीं देख चिकित्सकों ने वाराणसी के लिए रेफर कर दिया।
दोस्तपुरा निवासी रामबिलास सोनकर पुत्र सीताराम शनिवार की शाम चार बजे पुल के पास भुट्टा बेच रहे उसी मोहल्ले के अभिमन्यु के ठेले से भुट्टा खरीदा। अभिमन्यु भुट्टे का 20 रुपये मांग रहा था जबकि रामबिलास उसे 15 रुपये दे रहा था। इसी बीच पांच रुपये को लेकर दोनों के बीच बहसबाजी होने लगी। देखते ही देखते दोनों गाली-गलौज करने लगे। इसी बीच भुट्टा बेच रहे अभिमन्यु ने उसकी आंख में शिकंजा घुसेड़ दिया। इससे उसकी आंखे बाहर निकल आई और वह लहूलुहान होकर वहीं गिर गया। घटना के बाद ठेले वाला वहां से फरार हो गया। आसपास के लोग घायल को अस्पताल पहुंचाए एवं घायल के परिजनों को सूचना दी। घरवाले अस्पताल पहुंचे। उधर पुलिस को सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची और छानबीन में जुट गई।

महिला को पहले बनाया बंधक, फिर सहना पड़ा ये सब

गोंडा जिले में शनिवार को उस वक्त सनसनी फैल गई, जब ग्रामीणों ने खेत में छिपी एक महिला को बच्चा चोरी के संदेह में पकड़ लिया। इसके बाद महिला को पेड़ से बांधकर पीटा। सूचना मिलते ही पुलिस चौकी लकड़मन्डी प्रभारी सुखविंदर सिंह भदौरिया ,एस आई हरिद्वार तिवारी पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे।

महिला को मुक्त कराकर उसे हिरासत में ले गई। पुलिस के मुताबिक, महिला खुद का नाम बार-बार बदल कर बता रही है। उससे पूछताछ की जा रही है।

ये है पूरा मामला 

मामला नवाबगंज थानाक्षेत्र के गांव रहेली के मजरा भाईलाल पुरवा का है। यहां गन्ने के खेत में छिपी एक महिला को ग्रामीणों ने पकड़ लिया। उसपर बच्चा चोरी का संदेह जताते हुए पेड़ से बांध दिया गया। पुलिस का कहना है कि महिला कभी अपना नाम रुबीना तो कभी सफीना बता रही है। गांव का नाम भी सही नहीं बता सकी। उसे हिरासत में लेकर जांच की जा रही। ग्रामीणों ने बताया कि क्षेत्र में कुछ दिनों से बच्चा चोरी की अफवाह उड़ रही लेकिन इसकी पुष्टि नहीं होती। इसी अफवाह के चलते महिला को पकड़ लिया गया है।

बाइक किराए पर देने का झांसा देकर फंसाते थे

लखनऊ, कंपनी में बाइक किराए पर लगा प्रतिमाह मोटी रकम देने की बात कह ठगी करने वाली हेलो राइड कंपनी के एजेंट पर हसनगंज थाने में मुकदमा दर्ज हुआ। शहर के विभिन्न थानों में इससे पहले भी कंपनी के निदेशक और एजेंट पर मामले दर्ज हो चुके हैं।

यह है मामला 

हसनगंज के बाबा का पुरवा निवासी अधिवक्ता जेपी वैश्य ने अपने परिचित हेलो राइड कंपनी के एजेंट जियाउद्दीन के कहने पर कंपनी में 1.22 लाख रुपये लगा दिए। जियाउद्दीन ने उन्हें बताया कि कंपनी में बाइक लगाने वाले को प्रतिमाह 9360 रुपये किराया दिया जाता है। इसके लिए प्रत्येक बाइक के हिसाब से 61 हजार रुपये कंपनी को देने होते हैं। इन बातों में फंसकर उन्होंने सितंबर 2018 में 1.22 लाख की चेक कंपनी में जमा कर दी। कंपनी ने सिर्फ एक बार किराया बेटे के खाते में दिया। दबाव बनाने पर एजेंट जियाउद्दीन ने कुल चार चेक दिए जो बाउंस हो गए। पुलिस के मुताबिक अधिवक्ता की तहरीर पर कुर्सी रोड फूलबाग कॉलोनी निवासी हेलो राइड कंपनी के एजेंट जियाउद्दीन और उसके भाई फखरुद्दीन के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच पड़ताल की जा रही है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.