Jan Sandesh Online hindi news website

पुलिस इंस्पेक्टर ने शराब पिलाकर कार में महिला से किया रेप, बनाया वीडियो

गुड़गांव । करीब 30 साल की महिला ने रेप का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि 10 जुलाई को इंस्पेक्टर उसे जींद में स्विफ्ट कार में मिला। इंस्पेक्टर ने कहा कि वह भी गुड़गांव जा रहा है और महिला को कार में बैठा लिया। कुछ आगे जाकर कार के सभी शीशों पर काले पर्दे व फिल्म लगाकर सड़क किनारे कार रोक रेप किया गया।

11 जुलाई को इंस्पेक्टर ने कॉल कर अपने मकान में महिला को बुलाया तो वह चली गई। महिला का कहना है कि वहां भी रेप कर विडियो बनाया गया। यह विडियो महिला को वॉट्सऐप से भेजा और इसी के आधार पर आए दिन महिला से रेप करने लगा। उसे अपने साथ शराब पिलाने लगा।

और पढ़ें
1 of 619

परेशान होकर महिला वापस जींद चली गई और आत्महत्या की कोशिश की। लेकिन प्रदीप नामक युवक ने उसे समझाकर बचा लिया। शुक्रवार को उसने महिला थाना जींद पुलिस को शिकायत दी। जींद महिला थाना में इंस्पेक्टर के खिलाफ रेप व आईटी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। जींद की एक महिला से रेप के आरोप में गुड़गांव के सदर थाना एसआई इंस्पेक्टर दलबीर पर केस दर्ज किया गया है।

शनिवार को जींद पुलिस ने आरोपित इंस्पेक्टर को अरेस्ट कर लिया है। महिला ने अपने पति के खिलाफ महिला थाना ईस्ट में एफआईआर दर्ज कराई थी। आरोप है कि थाने के गेट पर ही इंस्पेक्टर दलबीर से उसकी मुलाकात हुई थी। उसके बाद दोनों की कॉल पर कई बार बात हुई। आरोप है कि 10 जुलाई को कार में महिला से रेप कर विडियो बनाया गया। इसके बाद उसे ब्लैकमेल कर कई बार रेप किया गया। परेशान होकर महिला ने केस दर्ज कराया।

इस पूरे मामले को कई ऐंगल से देखा जा रहा है। फिलहाल इंस्पेक्टर की पैरवी के लिए गुड़गांव पुलिस की भी एक टीम जींद गई है। पुलिस के आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, शनिवार शाम जींद पुलिस की ओर से गुड़गांव पुलिस के अधिकारियों से संपर्क किया गया। इस दौरान अधिकारियों को बताया गया कि सदर थाना में बतौर एसएचओ तैनात इंस्पेक्टर दलबीर पर जींद में रेप के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई है। महिला की शादी साल 2017 में जींद के ही एक युवक से हुई थी, लेकिन तभी दोनों अलग हो गए थे।

महिला गुड़गांव में नौकरी करने लगी और अपने पति के खिलाफ महिला थाना ईस्ट में एफआईआर दर्ज कराई। आरोप है कि महिला थाने के गेट पर ही इंस्पेक्टर दलबीर से उसकी मुलाकात हुई और दोनों कॉल पर बात करने लगे। आरोप है कि इंस्पेक्टर ने महिला की पुरानी नौकरी छुड़वाकर 28 मई से टीएफआर रेस्तरां-क्लब में नौकरी लगवा दी। इसके बाद दोनों अक्सर मोबाइल कॉल पर बात करने लगे।

इस पूरे मामले में गुड़गांव पुलिस का कोई अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। लेकिन सूत्रों की मानें तो शनिवार को सूचना मिलते ही पुलिस कमिश्नर मोहम्मद अकिल ने इंस्पेक्टर दलबीर को लाइन हाजिर कर दिया। सदर थाना एसएचओ से हटाकर इंस्पेक्टर को पुलिस लाइन भेज दिया गया। उनके स्थान पर सेक्टर-9ए थाना एसएचओ इंस्पेक्टर बसंत को सदर थाना एसएचओ लगाया गया है। ट्रैफिक विंग से इंस्पेक्टर ओमप्रकाश को सेक्टर-9ए थाना एसएचओ लगाा गया है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.