Jan Sandesh Online hindi news website

टीम इंडिया के कोच के लिए मुंबई में शुरू हुआ इंटरव्यू

टीम इंडिया के कोच पद के लिए शुक्रवार को मुंबई स्थित भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड बक्सी के हेडक्वार्टर में सुबह साढ़े 10 बजे इंटरव्यू शुरू हो चुका है. कपिल देव के नेतृत्व वाली क्रिकेट सलाहकार समिति पर भारतीय टीम का नया कोच चुनने की जिम्मेवारी है. इस समिति में अंशुमन गायकवाड़ और शांता रंगास्वामी भी शामिल हैं. बोर्ड शाम 7 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस कर नए कोच के नाम की घोषणा करेगा.

बीसीसीआई ने टीम इंडिया के मुख्य कोच के लिए 6 नामों को शॉर्टलिस्ट किया है, जिसमें वर्तमान कोच रवि शास्त्री भी शामिल हैं. रवि शास्त्री के अलावा दो और भारतीय कोच (पूर्व क्रिकेटर लालचंद राजपूत और रॉबिन सिंह) को भी शॉर्टलिस्ट किया गया है.टीम इंडिया के कोच के लिए ये हैं रेस में

और पढ़ें
1 of 85
  • रवि शास्त्री (उम्र 57; 80 टेस्ट, 150 वनडे इंटरनेशनल)
  • टॉम मुडी (उम्र 53; 8 टेस्ट, 76 वनडे इंटरनेशनल)
  • माइक हेसन (उम्र 44; खिलाड़ी के तौर पर कोई अनुभव नहीं)
  • फिल सिमंस (उम्र 56; 26 टेस्ट, 143 वनडे इंटरनेशनल)
  • लालचंद राजपूत (उम्र 57; 2 टेस्ट, 4 वनडे इंटरनेशनल)
  • रॉबिन सिंह (उम्र 55; 1 टेस्ट, 136 वनडे इंटरनेशनल)
    इंटरव्यू के लिए लालचंद राजपूत, रॉबिन सिंह और माइक हेसन व्यक्तिगत तौर पर मौजूद रहेंगे, जबकि रवि शास्त्री समेत दो अन्य स्काइप  के माध्यम से जुड़ेंगे. माना जा रहा है कि कोच पद की रेस में रवि शास्त्री सबसे आगे हैं. जुलाई 2017 में दूसरी बार कोच बनने के बाद रवि शास्त्री की कोचिंग में टीम इंडिया ने 21 टेस्ट मैच खेले, जिसमें भारत को 13 में जीत मिली. जबकि टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में भारत ने 36 में से 25 में जीत का स्वाद चखा था. इसी तरह वनडे की बात की जाए तो शास्त्री की कोचिंग में टीम इंडिया ने 60 मैचों में 43 में जीत हासिल की. इस तरह से दूसरे कार्यकाल में उनकी कोचिंग में भारत को कुल 81 मैचों में जीत मिली.क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में जुलाई 2017 के बाद भारत की जीत-हार का प्रतिशत देखें तो टेस्ट में भारत की जीत की औसत 52.38 प्रतिशत है,

जबकि टी-20 इंटरनेशनल में यह एवरेज 69.44 प्रतिशत बैठता है. वनडे में टीम इंडिया की जीत की औसत काफी बढ़िया रही और इसमें 71.67 की औसत रही. हालांकि यह अलग बात है कि रवि शास्त्री की कोचिंग में शानदार प्रदर्शन करने के बावजूद भारतीय टीम तीसरी बार वर्ल्ड कप जीतने से चूक गई. 2015 वर्ल्ड कप में भी टीम सेमीफाइनल में हार गई थी. बीसीसीआई की ओर से नए कोच की तलाश के बीच वेस्टइंडीज दौरे पर गई टीम इंडिया की टी-20 सीरीज और वनडे सीरीज में शानदार जीत रवि शास्त्री के तीसरी बार चयन में अहम भूमिका निभा सकती है.

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.