Jan Sandesh Online hindi news website

योगी ने लगायी नये मंत्रियों की लगायी क्लास, दिया ये गुरूमंत्र !

लखनऊ । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल के पहले विस्तार में बुधवार को 23 मंत्रियों ने शपथ ली। इसमें पांच का दर्जा बढ़ाते हुए उन्हें कैबिनेट मंत्री की शपथ दिलाई गई। इसके अलावा छह राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार और छह राज्यमंत्री ने शपथ ग्रहण की।

मुख्यमंत्री ने मंत्रिमंडल विस्तार में जहां युवा चहेरों को तरजीह दी है, वहीं जातीय व क्षेत्रीय संतुलन का भी पूरा ख्याल रखा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार की शाम एनेक्सी में मंत्रिमंडल के नए सदस्यों के साथ बैठक की। योगी ने उन्हें उनकी जिम्मेदारी समझाई।

और पढ़ें
1 of 723

क्या करना है इससे अधिक फोकस क्या नहीं करना पर है किया। उन्होंने कहा कि आप लोग जितना सहज रहेंगे जनता के बीच उतने प्रभावी रहेंगे। बेहतर काम ही ईनाम देगा। सीएम ने मंत्रियों को पिछले ढाई साल में सरकार की विभिन्न उपलब्धियों और योजनाओं से अवगत कराया। कहा, आप लोग इसकी विस्तृत जानकारी रखें, जिससे क्षेत्र में जाएं तो वास्तविक मूल्यांकन कर सकें। आगे प्रभारी मंत्री बनेंगे तो इन योजनाओं की समीक्षा आपको करनी होगी, इसलिए जानकारी जरूरी है।

मुख्यमंत्री ने कहा वीआईपी कल्चर से दूरी बनाएं, होटलों में ठहरने के बजाय सरकारी गेस्ट हाउसों को तरजीह दें। भाषा में संयम, काम में ईमानदारी और व्यवहार में शालीनता रखें।

सूत्रों के अनुसार सीएम ने साफ कहा कि प्रदर्शन ही कसौटी है। परिणाम नहीं देंगे तो उसके प्रतिकूल नतीजे होंगे। माना जा रहा है कि मंत्रिमंडल में की गई छंटनी की ओर सीएम का इशारा था।

केंद्र-प्रदेश सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं में शानदार प्रदर्शन करने वाले विभागों के मंत्रियों को प्रमोशन का तोहफा मिला। सीएम ने खुद मीडिया के सामने बताया कि उन्होंने प्रमोशन क्यों दिया गया। योगी ने कहा कि महेंद्र सिंह की अगुवाई में ग्राम्य विकास विभाग ने 12 राष्ट्रीय पुरस्कारों में सभी जीते। मनरेगा में शानदार काम हुआ।

सुरेश राणा की अगुवाई में गन्ना विकास विभाग ने जितना किसानों को गन्ना मूल्य का भुगतान हुआ उतना दस सालों में नहीं हुआ। सीएम ने पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र चैधरी की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन को सफल बनाने में अहम भूमिका निभाई।

अनिल राजभर ने होमगार्ड विभाग में कई अहम सुधार किए। नीलकंठ तिवारी ने संगठन व सरकार दोनों ही जिम्मेदारियों को बेहतर निभाया। शपथ लेने के बाद कई मंत्रियों ने मंच से ही भारत माता की जय के नारे लगाए। रविंद्र जायसवाल के शपथ के दौरान उनके समर्थकों ने श्हर हर महादेवश् का घोष किया।

रविंद्र वाराणसी से आते हैं। अधिकतर मंत्रियों ने शपथ लेने के बाद महंत योगी आदित्यनाथ के चरण छूकर आशीर्वाद लिया। सीएम व राज्यपाल ने बुके देकर मंत्रियों का स्वागत किया।

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.