Jan Sandesh Online hindi news website

कम होगी स्वेटिंग इन टिप्स को अपनाने पर

0
मौसम चाहे जो भी हो शरीर पर पसीना आता ही है। गर्मियों और उमस भरे मौसम में तो पसीने के कारण हालत खराब हो जाती है। इस वजह से कहीं आने-जाने की भी इच्छा नहीं होती और यह समस्या चिड़चिड़ा भी बना देती है। लेकिन कुछ तरीकें हैं जो इस परेशानी को काफी हद तक दूर कर सकते हैं।

शेव या वैक्सिंग

शरीर पर बाल यानी ज्यादा पसीना, इसलिए टाइम टू टाइम शेव करते या वैक्सिंग करवाते रहें। इससे स्किन के पोर्स को भी क्लीन रहने में मदद मिलेगी जो पसीने की समस्या को भी कम कर देगा।
और पढ़ें
1 of 26

लोशन और क्रीम

स्किन के हाइड्रेशन को बनाए रखने के लिए लोशन या क्रीम बेहद जरूरी है, हालांकि इसके कारण पसीना भी ज्यादा आता है। इससे बचने के लिए ऐसे लोशन या सनस्क्रीन चुनें तो वॉटर या जेल बेस्ड हों। आप चाहें तो ऐलोवेरा या समर स्पेशल लोशन भी चुन सकती हैं जो स्किन में आसानी से अब्जॉर्ब हो जाते हैं और स्किन चिपचिपी नहीं होती। इससे पसीना भी कम आता है।

कपड़े

ऐसे कपड़े पहने जिनमें से हवा आर-पार हो सके। कॉटन इसके लिए बेस्ट चॉइस है। साथ ही में कलर भी लाइट चुनें। ज्यादा डार्क कलर ज्यादा गर्मी व सनलाइट सोखते हैं जिससे बॉडी का तापमान बढ़ता है और पसीना ज्यादा आता है, इसलिए लाइट फैब्रिक और कलर के कपड़े बेस्ट चॉइस हैं।

न खाएं ये चीजें

ज्यादा ऑइली, स्पाइसी, नॉन वेज और फास्ट फूड खाने से बचें। इन सभी को पचाने में बॉडी ज्यादा एनर्जी लेती है जिससे पसीना भी ज्यादा आता है।

कूल ड्रिंक्स

कम पसीने के लिए बॉडी को बाहर ही नहीं बल्कि अंदर से भी कूल रखने की जरूरत है। इसके लिए आप छाछ, दही, लस्सी, नारियल पानी, ताजे फलों के जूस, सब्जियों के जूस आदि को पी सकते हैं।

नॉर्मल तापमान की डालें आदत

गर्मी से बचने के लिए लोग एसी में रहना पसंद करते हैं जो उनकी बॉडी को तुरंत कूल डाउन करता है और पसीना बिल्कुल भी नहीं आता। हालांकि, शरीर को इसकी आदत लग जाए तो उसे मौसम के मुताबिक खुद को ढालने में परेशानी होती है। कोशिश करें कि आप ज्यादा से ज्यादा समय नॉर्मल रूम टेंपरेचर में गुजारें जिससे शरीर को आसानी से अजस्ट होने में मदद मिलेगी और पसीना कम आएगा।

ऐपल साइडर विनिगर

ऐपल साइडर विनिगर को एक बोल में निकालें और रुई की मदद से अपने बॉडी के उन हिस्सों पर लगाएं जहां आपको सबसे ज्यादा पसीना आता है। इसे रातभर लगे रहने दें और सुबह धो लें। माना जाता है कि इस विनिगर से पोर्स को टाइट होने में मदद मिलती है जिससे पसीना कम आता है।

ब्लैक टी

एक कप पानी गरम करें और उसमें चाय पत्ती मिलाएं। इसे उबलने दें और फिर गैस बंद कर दें। पानी ठंडा हो जाए तो उसे छान लें और पानी को रुई की मदद से ज्यादा स्वैट करने वाले हिस्सों पर लगाएं। ब्लैक टी में भी ऐपल साइडर विनिगर जैसी खासियत है। यह भी पोर्स को टाइट करते हुए स्वैटिंग की समस्या को कम करता है।
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।