Jan Sandesh Online hindi news website

Style Icon PM Modi: पीएम मोदी को देश का ‘स्टाइल आइकन’ बनाते हैं उनके ये 7 फैशन स्टेटमेंट्स

0

नई दिल्ली, लाइफस्टाइ डेस्क। Style Icon PM Modi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 17 सितंबर यानी आज अपना 69वां जन्मदिन मना रहे हैं। नरेंद्र मोदी को देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू और स्वर्गीय राजीव गांधी के बाद देश के सबसे स्टाइलिश और स्मार्ट पीएम माना जाता है। युवाओं के लिए फैशन आइकन बन चुके पीएम मोदी का हर अवसर में स्टाइल स्टेटमेंट छाया रहता है। जिस तरह से देश में पंडित नेहरू के बंद गले वाले जैकेट को नेहरू जैकेट के नाम से मशहूर हो गया वैसे ही आधी बाज़ू के कुर्ते का फैशन लाने वाले पीएम मोदी रहे हैं।

और पढ़ें
1 of 48

उनकी आलोचना चाहे जितनी कर लें, लेकिन एक बात से सभी सहमत होंगे कि नरेंद्र मोदी की पहचान उनके स्टाइल स्टेटमेंट की वजह से भी होती है। उन्हें ‘स्टाइल आइकॉन’ कहना बिल्कुल भी ग़लत नहीं होगा। तो आइए उनके जन्मदिन पर हम आपको बता रहे हैं पीएम मोदी के 8 स्टाइल स्टेटमेंट्स के बारे में।

प्रधानमंत्री जब पहली बार अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबोमा से मिले थे तब उन्होंने अपने नाम का मोनोग्राम सूट पहनकर सबको चौंका दिया था। उस वक्त उनके महंगे सूट की काफी आलोचना की गई थी।

भारत के सभी प्रधानमंत्री हमेशा फॉर्मल कपड़ों में ही देखें गए हैं। हालांकि, मोदी ऐसे पीएम हैं जो एक्पेरिमेंट करने से पीछे नहीं हटे। फॉर्मल्स के अलावा उन्हें टीशर्ट और ट्राउज़र्स में गोल्फ खेलते भी देखा गया है। देसी कपड़ों के साथ वह वेस्टर्न लुक भी बहुत अच्छी तरह से कैरी करते हैं।

इसी साल प्रधानमंत्री मोदी अंडमान-निकोबार आइलैंड की राजधानी पोर्ट ब्लेयर पहुचे थे। जहां उन्हें ‘मुण्डू’ पहने देखा गया था। ये दक्षिण भारत का पारंपरिक परिधान है। इस तरह के पारंपरिक पहनावे में भी मोदी काफी फब भी रहे थे।hat

प्रधानमंत्री मोदी ने कई लुक्स ट्राइ किए हैं। मोनोग्राम सूट के बाद पीएम मोदी ने मोनोग्राम शॉल भी पहनी। अपने फ्रांस दौरे पर मोदी ने काले रंग की शॉल पहनी थी जिसपर NM साफ देखा जा सकता था।

बराक ओबामा के साथ मुलाकात के समय पीएम भगवा रंग की पश्मीना शॉल में दिखे थे।

फिर चीन दौरे पर उन्हें शेड्स और शॉल पहने देखा गया।

उसके बाद नेपाल दौरे पर मोदी से अपना पसंदीदा देसी लुक अपनाया।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।