Jan Sandesh Online hindi news website

गुड़ करता है Weight Loss में मदद, ऐसे करें यूज

0

खाना खाने के बाद अक्सर लोगों को कुछ मीठा खाने का मन करता है। अगर आप भी उन लोगों में से एक हैं तो मुंह मीठा करने के लिए चीनी या मिठाई की जगह गुड़ खाएं। जी हां, ऐंटिऑक्सिडेंट्स से भरपूर गुड़, पावरहाउस की तरह है जिसमें आयरन, पोटैशियम, गंधक, फॉस्फॉरस, कैल्शियम, विटमिन ए और विटमिन बी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। गुड़ खाने से न सिर्फ हमारा खून साफ होता है बल्कि शरीर का मेटाबॉलिज्म भी ठीक रहता है, इसलिए गुड़ वजन घटाने में भी आपकी मदद कर सकता है, कैसे यहां जानें…

​गुड़ में कम होती है कैलरी

अगर आप वजन घटाने की सोच रहे हैं तो डायट में चीनी की जगह गुड़ का इस्तेमाल करें क्योंकि चीनी के मुकाबले गुड़ में कैलरीज की मात्रा बेहद कम होती है लिहाजा इसे आप नैचरल स्वीटनर के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं।
और पढ़ें
1 of 66

​पाचन तंत्र को रखे दुरुस्त

आयुर्वेद संहिता के अनुसार गुड़ शीघ्र पचने वाला, खून बढ़ाने वाला व भूख बढ़ाने वाला होता है। ऐसे में अगर आप गैस या ऐसिडिटी से परेशान हैं तो खाने के बाद थोड़ा गुड़ जरूर खाएं ऐसा करने से ये दोनों ही समस्याएं नहीं होती हैं। गुड़, सेंधा नमक, काला नमक मिलाकर चाटने से खट्टी डकारें आना बंद हो जाती हैं।

​शरीर को करे डिटॉक्स

गुड़, खून को साफ कर शरीर में मौजूद हानिकारक टॉक्सिन्स को बाहर निकालने में मदद करता है जिससे आपको वजन घटाने में मदद मिलती है। जिस तरह ग्रीन टी शरीर को डिटॉक्स कर वेट लॉस में मदद करती है ठीक उसी तरह गुड़ भी हमारे शरीर के लिए डिटॉक्स का काम करता है और वजन घटाता है।

​मेटाबॉलिज्म रेट को बढाए

गुड़ में पोटैशियम की मात्रा अधिक होती है जिस वजह से यह शरीर के मेटाबॉलिज्म रेट को तेजी से बढ़ाता है और जब शरीर का मेटाबॉलिक रेट अधिक होता है तो कैलरीज को बर्न कर तेजी से वजन घटाने में मदद मिलती है।

​सीमित मात्रा में करें सेवन

वैसे तो गुड़, सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद है औऱ कई बीमारियों को दूर करने में भी मदद करता है। बावजूद इसके किसी भी चीज की अति बुरी होती है। लिहाजा गुड़ का सेवन भी सीमित मात्रा में ही करें। बहुत ज्यादा गुड़ खाने से शऱीर को नुकसान भी हो सकता है।
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।