Jan Sandesh Online hindi news website

वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से मुख्य सचिव ने की जन कल्याणकारी कार्यक्रमों की समीक्षा

0

रिपोर्ट:सैय्यद मकसूदुल हसन

सुलतानपुर। प्रदेश के मुख्य सचिव आर0के0 तिवारी ने जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से जन कल्याणकारी कार्यक्रमों की समीक्षा की तथा सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से मुख्य सचिव ने बाढ़/अतिवृष्टि से हुई क्षति की समीक्षा करते हुए कहा कि जिलाधिकारी अपने जनपद में बाढ़/अतिवृष्टि से हुई क्षति का आंकलन कराते हुए तत्काल सम्बन्धितों को क्षतिपूर्ति मुहैया करायें तथा फसल बीमा योजना के अन्तर्गत योजना से आच्छादित किसानों को उनकी नुकसान हुई फसल के एवज में सम्बन्धित बीमा कम्पनी से बीमित राशि को उपलब्ध कराने के साथ ही उन्होंने वृहद स्तर पर गोरक्षण कार्यक्रम को प्राथमिकता के साथ संचालित किये जाने के भी निर्देश दिये।

और पढ़ें
1 of 71

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए मुख्य सचिव ने कहा कि अस्पतालों में साफ-सफाई व्यवस्था दुरस्त रखी जाये तथा दवाईयों की उपलब्धता पर्याप्त मात्रा में रहे। उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के इनपैनेल्ड पर भी जोर दिया। स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण की समीक्षा करते हुए मुख्य सचिव ने प्रत्येक ग्राम में अधिकतम 02 लाख रूपये की लागत से सामुदायिक शौंचालय के निर्माण कराये जाने हेतु आवश्यक औपचारिकताएं पूर्ण कराये जाने के निर्देश दिये, ताकि शत-प्रतिशत खुले में शौंच से मुक्ति हो सके। इसके अतिरिक्त मुख्य सचिव द्वारा स्वच्छ भारत मिशन नगरीय, प्लास्टिक पाॅलीथीन पर प्रतिबन्ध, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की प्रगति, प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, मुख्यमंत्री आवास योजना, उ0प्र0 शहकारी ग्राम विकास बैंक लिमिटेड के वसूली आदि बिन्दुओं की भी विस्तार से समीक्षा की गयी।
वीडियो कान्फ्रेसिंग में प्रमुख सचिव पशु पालन विभाग, प्रमुख सचिव सहकारिता, निदेशक पंचायती राज आदि ने भी अपने विभागों से सम्बन्धित समीक्षा की तथा आवश्यक दिशा निर्देश दिये।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।